aapkikhabar aapkikhabar

आपका मोबाइल फ़ोन बन सकता है आपके चेहरे के खतरनाक



आपका मोबाइल फ़ोन बन सकता है आपके चेहरे के खतरनाक

स्मार्टफ़ोन का ज्यादा यूज़ करने पर हो सकता है खतरा

डेस्क- आज कल लोग मोबाइल का यूज़ करना इतना आम बना लिया है कि उनको खुद की सेहत का कोई फ़िक्र नही रहता है जी हाँ आज हम आपको बतायेंगे ज्यादा स्मार्टफ़ोन करने वाले के चेहरे पर पिम्पले क्यू निकल आते है आपको बता दे स्मार्ट फोन का ज्यादा इस्तेमाल करने वाले लोगों में मुहांसों की समस्या बहुत बढ़ रही है ऐसा इसलिए होता है क्योंकि जब हम काफी देर तक स्मार्टफोन को कान में लगाकर बात करते हैं तो उसमें चिपके कई तरह के बैक्टीरिया हमारी स्किन के पोर्स में चले जाते हैं जिससे मुंहासे हो सकते हैं इसके अलावा स्मार्टफोन ज्यातादर लोगों के हाथ में ही रहता है जिसके चलते कई तरह के अनदेखे कीटाणु फोन में चिपक जाते हैं और जब वही हाथ हम अपने चेहरे पर लगाते हैं तो कुछ ही देर में मुंहासे निकल आते हैं अगर आप भी ऐसा करते हैं तो सावधान हो जाएं स्मार्टफोन से बात करते वक्त हमेशा या तो ईयर फोन का इस्तेमाल करें और या फोन के इस्तेमाल के साथ चेहरे पर हाथ लगाने से पहले हाथ अच्दी तरह धो लें।


तैलीय त्वचा को ज्यादा खतरा


मुंहासे ज्यादातर तैलीय त्वचा में होते हैं मुंहासे होने के बड़े कारणों में ख़राब खानपान और शरीर में होने वाले हार्मोनल परिवर्तन हैं मौसम में हुए बदलाव के कारण भी कई बार मुंहासे होने की समस्या हो जाती है सर्दियों में तो मुंहासों के साथ बड़ी असमंजस वाली स्थिति पैदा हो जाती है, क्योंकि ऐसे में त्वचा को नमी की भी जरूरत होती है और वह त्वचा को नहीं मिल पाती है मुहांसे होने के और भी कई कारण होते हैं आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में लोगों पर कई तरह के दबाव हैं ना सिर्फ बड़ों पर बल्कि छोटे-छोटे बच्चे भी आजकल पढ़ाई और बढ़ती प्रतिस्पर्धा के चलते तनाव के शिकार हो रहे हैं तनाव भी चेहरे पर मुंहासे पैदा करने का एक बहुत बड़ा कारण है।


केमिकल्स वाले ब्यूटी प्रोडक्ट्स


इसके अलावा सुंदर दिखने के चलते कई लोग कोई भी क्रीम या कैमिकल प्रॉडक्ट का इस्तेमाल कर लेते हैं जिनसे भी चेहरे पर मुहांसे होते हैं मुंहासों का ये कारण किशोरो में ज्यादा देखा जाता है मुंहासों के इन कारणों के बारे में तो शायद आपने सुना ही होगा लेकिन आज हम आपको मुंहासे होने का एक ऐसा कारण बता रहे हैं जिसे पढ़कर आप निश्चत ही चौंक जाएंगे।


मुंहासे


कई लोग चेहरे पर हद से ज्यादा मुंहासे होने या अन्य किसी तरह की खराबी के चलते डिप्रेशन के शिकार हो जाते हैं इसके अलावा शोध बताते हैं कि जिस समय व्यक्ति तनावग्रस्त होता है तब शरीर में कोर्टिसोल हार्मोंस का स्राव बढ़ जाता है जिसके कारण शरीर की त्वचा की ग्रंथियों से सीवम नामक हारमोन का स्राव ज्यादा होने लगता है जिसके कारण मुंहासे होते हैं मुंहासे और तनाव का गहरा संबंध है।


 


- शेख मो अब्दुल्ला



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के