aapkikhabar aapkikhabar

दुष्‍कर्म पर जल्दी सजा स्वाति को रास आया केंद्र का प्रस्‍ताव, 9वें दिन भी अनशन जारी



दुष्‍कर्म पर जल्दी  सजा स्वाति को रास आया केंद्र का प्रस्‍ताव, 9वें दिन भी अनशन जारी

aapkikhabar.com

नई दिल्ली। बच्चियों से दुष्कर्म करने वालों को छह महीने के अंदर फांसी की सजा देने सहित अन्य मांगों को लेकर दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति जयहिंद का अनशन 9वें दिन भी जारी है। दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष स्वाति जयहिंद ने अनशन के आठवें दिन महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि जब तक सारी मांगें नहीं मानी जाएंगी तब तक अनशन खत्म नहीं होगा।


लंबा रास्ता तय करना पड़ेगा


केंद्र सरकार द्वारा सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हलफनामे पर संतोष जताते हुए उन्होंने कहा कि सरकार 12 साल से कम उम्र के बच्चों से दुष्कर्म करने वालों को फांसी की सजा देने के लिए कानून में संशोधन पर विचार कर रही है। हालांकि इसके लिए काफी लंबा रास्ता तय करना पड़ेगा, लेकिन केंद्र सरकार को फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने, दिल्ली पुलिस की संख्या बढ़ाने और फोरेंसिक लैब को सुदृढ़ करने की दिशा में काम करना होगा। महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराध के मामले की सुनवाई छह महीने में हो और बच्चियों से दुष्कर्म करने वालों को फांसी की सजा मिले।


स्वाति ने मांगी जानकारी


अनशन के आठवें दिन स्वाति ने वित्त मंत्रालय से दिल्ली पुलिसकर्मियों की संख्या बढ़ाने के प्रस्ताव की स्थिति की जानकारी मांगी। उन्होंने लिखा है कि दिल्ली पुलिस में पुलिसकर्मियों की संख्या बढ़ाने के लिए गृह मंत्रालय द्वारा अनुमोदित कई प्रस्ताव पिछले कई महीनों से वित्त मंत्रालय के पास लटके हैं। उन्होंने यह सूचना भी मांगी कि दिल्ली पुलिस की संख्या बढ़ाने के कितने प्रस्ताव विभाग में आए, उन पर क्या एक्शन लिया गया और अभी कितने प्रस्ताव लंबित हैं।


गुजारिश है कि थोड़ा विराम ले लें


समता स्थल पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी स्वाति से मिलने पहुंचे और उनसे अनशन खत्म करने को कहा, लेकिन स्वाति ने इन्कार कर दिया। मालीवाल ने कहा कि वह नए कानून के लागू होने तक अपना अनशन खत्म नहीं करेंगी।


केजरीवाल ने कहा कि 'स्वाति एक महान लड़ाई लड़ रही हैं। इसके लिए स्वस्थ रहना जरूरी है। उनसे लड़ाई खत्म करने को नहीं कह रहा हूं, लेकिन गुजारिश है कि थोड़ा विराम ले लें, जिससे पूरी ताकत से लड़ाई लड़ सकें। उनसे प्रार्थना कर रहा हूं कि वो अपना अनशन खत्म कर दें, यदि स्वाति अपने फैसले पर अडिग हैं, तो हम उनके सभी निर्णय के साथ हैं।'


स्वाति को समर्थन देने के लिए पूर्व राज्यसभा सदस्य अली अनवर, गायक हरभजन मान और अभिनेत्री राजश्री पोनप्पा भी पहुंचीं। पूर्व सांसद अली अनवर ने कहा स्वाति मालीवाल एक अच्छे मुद्दे के लिए आंदोलन कर रही हैं इसलिए वह उन्हें सलाम करते हैं। हरभजन मान ने कहा कि वह जहां भी जाएंगे स्वाति का संदेश हर जगह फैलाएंगे।


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के