aapkikhabar aapkikhabar

पोल्ट्री फार्म के मरे मुर्गे खाकर कुत्ते हो रहे हिंसक,बुजुर्ग को बुरी तरह नोच डाला



पोल्ट्री फार्म के मरे मुर्गे खाकर कुत्ते हो रहे हिंसक,बुजुर्ग को बुरी तरह नोच डाला

एक बुजुर्ग सहित कई मवेशियों को नोंच खाया

हुसैनाबाद -बाराबंकी के सुबेहा थाना अंतर्गत गाँव रामपुर जमीन हुसैनाबाद में बने अवैध पोल्ट्री फार्म के मरे मुर्गी खाकर कुत्ते पागल हो गए हैं और गांव में आतंक मचा रहे हैं इन कुत्तों ने गाँव के ही एक बुजुर्ग सहित कई मवेशियों को नोंच खाया ग्रामीण पोल्ट्री फार्म संचालक के खिलाफ काफी आक्रोशित हैं और प्रशासन से इसे बंद कराने की मांग कर रहे है।


ब्लॉक हैदरगढ़ से 18 किमी दूर स्थित ग्राम रामपुर जमीं हुसैनाबाद में विगत लगभग 10 वर्षों से तीन अवैध पोल्ट्री फार्म संचालित है यह पोल्ट्री फार्म 4-5 गांव के लिए 10 वर्षों से समस्या का कारण बना हुआ है ग्रामीण पोल्ट्री फार्म की शिकायत मुख्यमंन्त्री से भी चुके है लेकिन प्रशासनिक मिलीभगत और लापरवाही के कारण आजतक उनकी समस्याओं का निराकरण नहीं हो पाया है आलम यह है कि पोल्ट्री के बदबू, बड़े-बड़े हरे एवं नीले रंग के मक्खी के बाद मरी एवं सड़ी गली मुर्गियों के अवशेष को खाकर आवारा कुत्ते पागल हो गए हैं कुत्तों ने में आतंक मचा रखा है ।


बुजुर्ग को नोच डाला
रामपुर जमीन हुसैनाबाद निवासी बसन्त यादव पुत्र स्व महाराजदीन यादव 12 मई को एक शादी समारोह से अपने घर वापस लौट रहे कि गाँव में अचानक कुत्तो ने बुजुर्ग बसन्त पर हमला उन्हें नोच डाला घायल बसन्त का इलाज अब शुकुलबाज़ार सीएचसी में चल रहा है ।


कुत्ते मवेशियों को काट रहे
एक तरफ जहां मवेशियों पर हमला कर उसकी जान ले रहे हैं वहीं अब ये कुत्ते आदमखोर हो चुके हैं सड़े गले मुर्गे खाकर कुत्ते पागल हो रहे हैं गांव के मवेशी मैदान में जब चारा चरने आते हैं तो उन्हें पागल कुत्ते नोचने लगते हैं ।


सड़क किनारे फेंक देते हैं मरी मुर्गिया
आरोप है कि मुर्गीफार्म पर कार्यरत कर्मचारी बीमारी से मरने वाली मुर्गियों को सड़क के किनारे फेंक देते हैं जिनका मास खाने के बाद कुत्ते पागल हो गए हैं।


एक्यूट इंसेफ्लाइटिस सिंड्रोम से पीडि़त मुर्गियों के सेवन से जा सकती है जान
एक्यूट इंसेफ्लाइटिस सिंड्रोम वायरस का भले ही अंडे पर कोई असर नहीं पड़ता, लेकिन इस वायरस से पीडि़त मुर्गियों के मांस का सेवन करने पर मानव जीवन पर जरूर असर पड़ता है पशु चिकित्सकों की माने तो एक्यूट इंसेफ्लाइटिस सिंड्रोम से पीडि़त मुर्गियों के खून अथवा मांस से उक्त वायरस मानव शरीर में पहुंचता है, जो घातक है ।


पशु चिकित्सकों की माने, तो मुर्गे-मुर्गियों में आम तौर पर रानी खेत, गमबोरो, सालमोनलोसिस, एफलटोक्सीसिस बीमारी पाई जाती है, लेकिन कभी फार्मो पर पाले जाने वाले मुर्गे-मुर्गियों में दिमागी बुखार की बीमारी फैल जाती है एक्यूट इंसेफ्लाइटिस सिंड्रोम वायरस की चपेट में आने की वजह से पक्षी (मुर्गे-मुर्गी) भी दिमागी बुखार की चपेट में आ जाते है पशु चिकित्सकों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि एक्यूट इंसेफ्लाइटिस सिंड्रोम वायरस ग्रस्त मुर्गी को काटते वक्त यदि सम्बन्धित व्यक्ति के हाथ में कोई कट पर पीड़ित मुर्गे अथवा मुर्गी का खून अथवा मांस का टुकड़ा लगता है, तो वायरस उस व्यक्ति के शरीर में प्रवेश कर सकता है।


मुर्गे व मुर्गियों में बीमारियां
 1. दिमागी बुखार
 2. रानी खेत
 3. गमबोरो
 4. सालमोनलोसिस
 5. एफलटोक्सीसिस


 


- रजी सिद्दीकी



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के


Latest news with Aapkikhabar

"आज के ताज़े समाचार' के साथ आपकी ख़बर

भारत के सबसे लोकप्रिय समाचार के स्रोत में आपका स्वागत है ताजा समाचार और रोज के ताजा घटनाक्रम के लिए दैनिक समाचार को पढने के लिए हमारी वेबसाइट सही और प्रमाणिक समाचारों को खोजने के लिए सबसे अच्छी जगह है। हम अपने पाठकों को पूरे देश और उसके मुख्य क्षेत्रों में नवीनतम समाचारों के साथ प्रदान करते हैं। हमारा मुख्य लक्ष्य खबरों को एक उद्देश्य के साथ मूल्यांकन भी देना है और इस तरह के क्षेत्रों में राजनीति, अर्थव्यवस्था, अपराध, व्यवसाय, स्वास्थ्य, खेल, धर्म और संस्कृति के रूप में क्या हो रहा है, इस पर भी प्रकाश डालना है। हम सूचना की खोज करते हैं और सबसे महत्वपूर्ण ग्लोबल घटनाओं से संबंधित सामग्री को तुरंत प्रकाशित करते हैं।.

Trusted Source for News

ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए सबसे विश्वसनीय स्रोत है आपकी खबर

आपकी खबर उन लोगों के लिए एक बेहतरीन माध्यम है जिनके कई मुद्दों पर अपनी अलग राय है हम अपने पाठकों को भी एक माध्यम उपलब्ध कराते हैं जो ख़बरों का विश्लेषण कर सकें निर्भीक रूप से पत्रकारिता कर सकें | आपकी खबर का प्रयास रहता है की ख़बरों के तह तक जाएँ पुरी सच्चाई पता करें और रीडर को वह सब कुछ जानकारी दें जो अमूमन उन्हें नहीं मिल पाती है | यह प्रयास मात्र इस लिए है कि रीडर भी अपनी राय को पूरी जानकारी से व्यक्त कर सके |
खबर पढने वाले पाठकों की सुविधा के लिए हमने आपकी खबर में विभिन्न कैटेगरी में बात है जैसे कि विशेष , बड़ी खबर ,फोटो न्यूज़ , ख़बरें मनोरंजन,लाइफस्टाइल, क्राइम ,तकनीकी , स्थानीय ख़बरें , देश की ख़बरें उत्तर प्रदेश , दिल्ली , महाराष्ट्र ,हरियाणा ,राजस्थान , बिहार ,झारखण्ड इत्यादि |

Develop a Habit of Reading

अब अखबार नहीं डिजिटल अखबार पढ़िए “आप की खबर” के साथ

आपकी खबर सामाचार ताजा सामाचारों का एक डिजिटल माध्यम है जो जनता को सच्चाई देने में समाचारों का एक विश्वसनीय स्रोत बनने का प्रयास है। हमारे दर्शकों के पास समाचार पर टिप्पणी करने और अन्य पाठकों के साथ अपनी स्वतंत्र राय साझा करने का अंतिम अधिकार है। हमारी वेबसाइट ब्राउज़ करें और आप की खबर (आज की ताजा खबर) की जाँच करें, साथ ही आपको मिलेगा आपकी खबर के एक्सपर्ट्स की टीम खबरों की तह तक जाने का प्रयास करती है और कोशिस करती है कि सही विश्लेषण के साथ खबर को परोसा जाए जिसमे वीडियो और चित्र की भी प्रमंकिता हो । इसके लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें और भारत में कुछ भी नया घटनाक्रम को घटित होने पर अपने को रखें अपडेट |