aapkikhabar aapkikhabar

गोण्डा के इस दरोगा ने संवार दिया परिवार



गोण्डा के इस दरोगा ने संवार दिया परिवार

पुलिस ने मिला दिया परिवार को


  • दुधमुही बच्ची को छोड़ घर से भागी महिला की जिंदगी में मुस्कान लाए चौकी प्रभारी मनोज सिंह

  • अमेठी जनपद की महिला महीनों से गैर जनपदीय लोगों के घरों में रहकर कर रही थी गुजारा, ऑपरेशन मुस्कान बना उसका सहारा

  • चौकी क्षेत्र में चर्चा का विषय बने मनोज सिंह ,महिला के परिजनों ने मनोज सिंह को परिवार से मिलाने के लिए बहुत भी दुआएं


गोण्डा( एच पी श्रीवास्तव) कोतवाली देहात के सालपुर चौकी प्रभारी मनोज सिंह ने क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था के साथ-साथ महिला सम्मान में नजीर पेश करते हुए स्थानीय लोगों में दिन भर चर्चा का विषय बने रहे हैं ।


अक्सर कभी-कभी लोगों से सुनने को मिल जाता है "नारी तेरे कितने रूप" वह ममता मई मां के रूप में होते हुए भी समय पड़ने पर वह कितनी क्रूर निर्दई और पत्थर दिल हो सकती है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि जब वह अपने चंद दिनों के जिगर के टुकड़े को बेसहारा छोड़ परिजनों की जरा सी क्लास पर घर छोड़कर गायब जाए ।
जी हां हम आपको एक ऐसी महिला के बारे में बताने जा रहे हैं जो परिवार में जरा सी कलह पर 2 महीने की दुधमुही बच्ची को दरकिनार कर घर छोड़कर चली गई ।


क्या और कहां का है मामला


अमेठी जनपद की रहने वाली संगीता पुत्री राम सुमेर निवासिनी अजबगढ़ थाना जम्मो जिसकी बगल के ही गांव में शादी हुई थी शादी के कुछ दिनों बाद उसके लड़की पैदा हुई जो परिजनों के कलह की कारण बनी और आए दिन पति पत्नी में मारपीट लड़ाई झगड़ा होने लगा जिससे परेशान होकर वह अपने जिगर के दुधमुहे टुकड़े को छोड़ घर से भाग निकली और गैर जनपद में लोगों के यहां रह कर जीवन यापन करने लगी ।



कैसे गोंडा की पुलिस तक पहुंची महिला


थाना कोतवाली देहात के सालपुर पुलिस चौकी प्रभारी मनोज सिंह को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि मलारी क्षेत्र में एक महिला आई है जो महीनों से रह रही है । श्री सिंह ने तत्परता दिखाते हुए मलारी क्षेत्र से महिला को बरामद किया । मनोज सिंह ने बताया कि महिला से पूछताछ करने पर उसने अपना नाम संगीता थाना जम्मो जनपद अमेठी की रहने वाली बतलाया । महिला के अनुसार घर से भागने के बाद वह रेलवे स्टेशन पर आई थी वहां उसे एक महिला मिली जो उसे अपने साथ लुधियाने ले गई, उस महिला को बच्चा होने वाला था उसके डिलीवरी के बाद वह हमें यहां लेकर लाकर छोड़ गई । उसने बताया कि वह अब अपने घर जाना चाहती हैं चौकी प्रभारी मनोज सिंह ने बताया कि मेरे द्वारा इसकी जानकारी प्रभारी निरीक्षक देहात कोतवाली हर्षवर्धन सिंह को दिया गया तथा ऑपरेशन मुस्कान के अंतर्गत उसे प्राइवेट गाड़ी से गोण्डा से ले जाकर अमेठी जनपद के जम्मो थाना में उसके माता पिता को बुलाकर उनके सुपुर्द किया ।
परिजनों से मिलते ही वह महिला बहुत ही खुश हुई !



क्या कहते हैं प्रभारी निरीक्षक जम्मो , अमेठी


इस संबंध में दूरभाष पर प्रभारी निरीक्षक जम्मो से वार्ता की गई तो फोन SI माधव राज दृिवेदी ने उठाया। मुझे यह पूछने पर कि यह कब की घटना है और क्या आपके यहां गुमशुदगी का मुकदमा पंजीकृत किया गया था कहने लगे कि यह करीब 1 से डेढ़ महीने पूर्व की घटना है इसका मायका और ससुराल आस-पास है इसके पति द्वारा एक शिकायत पत्र सूचना दे दी गई थी कि मेरी पत्नी अपने 2 महीने की बच्ची को घर छोड़ भाग गई है। मुझे गोंडा पुलिस द्वारा आज दिनांक 11 जून 2018 के द्वारा सूचना मिली । मैं उसे लाने जा रहा था कि गोण्डा कोतवाली देहात के दरोगा मनोज सिंह द्वारा मेरे थाने पर लाकर उस महिला को उसके परिजनों के सुपुर्द किया गया । जैसे ही उस महिला ने अपने दुधमुही बच्ची को देखते ही उसका मातृत्व जाग उठा और बच्ची को सीने से लगा कर खूब फूट फूट कर रोई अब वह अपने परिवार के साथ है और काफी खुश है ।


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के