aapkikhabar aapkikhabar

Periods Colour देता है स्वास्थ्य कई संकेत



Periods Colour  देता है स्वास्थ्य कई संकेत

पीरियड्स का रंग

हेल्थ डेस्क -महिलाओं को पीरियड्स आना एक नैचुरल प्रक्रिया है। इस दौरान उन्हें तेज दर्द, चिड़चिड़ेपन, तनाव और पाचन से जुड़ी समस्या से गुजरना पड़ता है। कुछ महिलाओं को इस साइकल के दौरान पांच से सात दिन ब्लीडिंग होती है तो वहीं कुछ को सिर्फ तीन से चार दिन। आज हम आपको बताएंगे कैसे आप पीरियड्स में ब्लड कलर से अपनी अंदरुनी स्वास्थ्य से जुड़ी कई बाते जान सकती हैं...


हम सबको ऐसा लगता है कि पीरियड में होने वाली ब्लीडिंग का कलर लाला होता है। पर ऐसा नहीं है, अगर आप कभी इस पर गौर करेंगे तो आपको मालूम होगा कि इसका रंग गाढ़ा भूरा, काला और गुलाबी भी हो सकता है। आइए जानते है क्या कहते हैं विशेषज्ञ...


विशेषज्ञों के अनुसार अगर किसी महिला को गाढ़े रंग का फ्लो होता है तो इसका मतलब है कि जननांग से ब्लड का फ्लो बहुत ही धीरे है। वहीं अगर यह रंग गाढ़ा भूरा हो तो इसका मतलब है कि फ्लो हो रहा खून पुराना है, जो काफी समय से गर्भाशय में संग्रहित रहा होगा और जिसका अब फ्लो हो रहा है। ज्यादातर इसका फ्लो सुबह के समय होता है।


अगर आपका ब्लड फ्लो काला है तो यह खतरे की निशानी है। काला ब्लड का मतलब होता है कि आपके गर्भाशय में संक्रमण है। अगर आपको पूरी साइकिल के दौरान काले रंग का ब्लड फ्लो हुआ है तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।


अगर आपको नारंगी रंग का ब्लड फ्लो होता है तो काले की तरह इसे भी हल्के में न लें, क्योंकि नारंगी रंग का फ्लो तब होता है जब गर्भाशय के ऊपरी हिस्से के तरल के साथ मिलकर फ्लो होता है। अगर आपको भी नारंगी फ्लो हो रहा है तो इसे इग्नोर न करें। यह किसी संक्रमण का संकेत हो सकता है। बिना देरी करें अपने डॉक्टर को दिखाए।


अगर आपको लाल रंग का फ्लो हो रहा है तो इसका मतलब यह खून नया बना है और इसका कुछ जल्दी फ्लो हो गया है। देखने में यह काफी हल्का होता है। 


अगर किसी को हल्के लाल रंग का फ्लो हो तो इसका मतलब होता है कि आप बिल्कुल स्वस्थ हैं। विशेषज्ञों के मुताबिक लंबी पीरियड साइकिल वालों को ऐसा फ्लो होता है जो बाद में खोड़ा गाढ़ा हो जाता है।


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के