aapkikhabar aapkikhabar

साहब कभी शहर की तरफ भी नजर डाल लें



साहब कभी शहर की तरफ भी नजर डाल लें

छापेमारी करते हुए अधिकारी


  • अधिकारी ग्रामीण क्षेत्रों में दे रहे दस्तक मुख्यालय पर मिलावटखोरों की बल्ले-बल्ले

  • मंडल मुख्यालय पर मिलावटी खाद्य पदार्थों योग केमिकल युक्त सड़े-गले फलों की बिक्री जोरों पर


गोण्डा । मंडल मुख्यालय पर संबंधित विभागीय अधिकारियों की लचर कार्यप्रणाली से मिलावटखोरों व केमिकल युक्त सड़े-गले फलों की बिक्री जोरों पर है । खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारी एक तरफ ग्रामीण क्षेत्रों की तरफ दस्तक दे रहे हैं वही मुख्यालय पर ऐसे लोगों की नकेल कसने में असहाय नजर आते दिखाई पड़ रहे हैं जिससे मुख्यालय पर मिलावटखोरों व केमिकल युक्त पढ़ाई करें फलों के बेचने वालों की बल्ले-बल्ले है ।


कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय के कैंटीन में फूड विभाग ने की छापेमारी


आयुक्त ,खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन उत्तर प्रदेश तथा जिलाधिकारी महोदय के निर्देशानुसार आज जनपद के धानेपुर इलाके में चलने वाले कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय तथा जयप्रकाश नारायण सर्वोदय विद्यालय में चलने वाली कैंटीनों का निरीक्षण मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी हितेंद्र मोहन त्रिपाठी ने टीम के साथ किया। कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में कैंटीन के किचन में साफ सफाई की व्यवस्था तथा खाद्य पदार्थों का रखरखाव उचित नहीं पाया गया। किचन की फर्श टूटी हुई थी ।इस किचन से तैयार दाल, आटा तथा रस्क के सैंपल लेकर जांच हेतु भेजे जा रहे हैं। विद्यालय में पाई गई कमियों के लिए विद्यालय प्रबंधन तथा आपूर्तिकर्ता को सुधार नोटिस जारी किया जा रहा है।
जयप्रकाश नारायण सर्वोदय विद्यालय में चलने वाली कैंटीन मैं भी साफ सफाई की व्यवस्था ठीक नहीं थी तथा खाद्य पदार्थों का रखरखाव भी मानकों के अनुरूप नहीं किया जा रहा था। यहां से खाद्य सुरक्षा अधिकारी राघवेंद्र सिंह द्वारा लाल मिर्च पाउडर तथा दाल का नमूना लेकर जाच हेतु भेजा जा रहा है। पाई गई कमियों के लिए प्रबंधन तथा आपूर्तिकर्ता को नोटिस जारी किया जा रहा है।


इसके बाद भी सुधार ना होने पर उनके विरुद्ध विधिक कार्यवाही की जाएगी। दोनों विद्यालयों में खाद्य सुरक्षा अधिकारियों द्वारा बच्चों को दूषित भोजन से बचाव के तरीके तथा भोजन निर्माण में साफ-सफाई के फायदे बताए गए। बाजार में बिकने वाले खाद्य पदार्थो की गुणवत्ता के संबंध संबंध में भी आवश्यक जानकारी देकर बच्चों को जागरुक किया गया। अभिहित अधिकारी श्री विनय सहाय ने बताया कि जनपद में विद्यालयों तथा अस्पतालों में चलने वाले कैंटीन एवं मेस की जांच नियमित रूप से आगे भी की जाती रहेगी


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के