aapkikhabar aapkikhabar

समायोजन से नाराज गुरुजनों का हुआ पुलिस से सामना



समायोजन से नाराज गुरुजनों का हुआ पुलिस से सामना

शिक्षक नाराज

बाराबंकी -समायोजन प्रक्रिया को गलत बताते हुए महिला टीचरों ने आज काउंसिलिंग का बहिष्कार करते हुए जमकर नारेबाजी की ।घण्टों हंगामा रहा ।बढ़ते बवाल को देखते हुए प्रशासन को भारी पुलिस बल बुलाना पड़ा ।काउंसिलिंग न कराने वालों को बी एस ए ने सख्त चेतावनी दी है ।


बताते चलें कि पिछले तीन दिनों से परिषदीय शिक्षकों के समायोजन को लेकर काउंसिलिंग चल रही है । काउंसिलिंग के पहले ही दिन महिला शिक्षकों ने बीएसए पर मनमानी का आरोप लगाते हुए हंगामा खड़ा कर दिया । महिला शिक्षकों ने काउंसिलिंग का बहिष्कार कर दिया । आक्रोशित महिला शिक्षकों ने बुधवार को जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचकर घेराव किया लेकिन जब बात नही बनी तो आज फिर बड़ेल स्थित बीईओ कार्यालय पहुंचकर हंगामा शुरू कर दिया । महिला शिक्षकों का आरोप है कि सरप्लस के नाम पर इनका उत्पीड़न किया जा रहा है ।


इनका कहना है कि कई वर्षों की सेवा के बाद इन्हें फिर मुख्यालय से कोसों दूर भेजा जा रहा है जबकि वर्षों से करीब के स्कूलों में जमे लोगों को समायोजित नही किया जा रहा । शिक्षकों द्वारा किये जा रहे हंगामे को बढ़ता देख मौके पर एडीएम प्रशासन को पहुंचकर स्थिति संभालनी पड़ी । यही नही मामले की गम्भीरता देखते हुए प्रशासन को भारी पुलिस बल बुलाना पड़ा ।


बी एस ए विनय कुमार ने चेतावनी दी है कि जो भी शिक्षक काउंसिलिंग नही कराएंगे तो कमेटी खुद ब खुद निर्णय लेकर उनको किसी भी स्कूल में समायोजित कर देगी । वही बीएसए की धमकी से नाराज शिक्षकों ने कोर्ट जाने की तैयारी कर ली है साथ ही किसी भी कीमत पर काउंसिलिंग में हिस्सा नही लेने का फैसला किया है ।


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के