aapkikhabar aapkikhabar

Ganesh Chaturthi 2018 पर चांद देखना माना जाता है अशुभ



Ganesh Chaturthi 2018 पर चांद देखना माना जाता है अशुभ

Ganesh Chaturthi

Ganesh Chaturthi के दिन चंद्रमा के  दर्शन नहीं करना चाहिए |


डेस्क- Ganesh Chaturthi पर  पूरा देश इस गणेश उत्सव की तैयारी में लगा है, हर कोई बप्पा के आना का इंतजार कर रहा है, चारों ओर धूम ही धूम देखने को मिल रही है।


Ganesh Chaturthi के दिन क्यों  चंद्रमा के दर्शन को माना जाता है अशुभ 


गणेशजी ने चंद्रमा को श्राप दिया कि आज से कोई तुम्हारा दर्शन नहीं करेगा। ऐसा करने वाले पर झूठे आरोप लगेंगे।


Hartalika Teej 2018 जाने महिलायें और कुंवारी कन्याएं ही क्यों रहती है यह व्रत
जो लोग इन दिनों गणपति को अपने घर लेकर आते हैं, वो काफी चीजों का ध्यान रखते हैं, पूजा स्थल से भोग सामग्री तक लोग सावधानी बरतते हैं लेकिन एक बात और है, जो कि इस दिन विशेष ध्यान देने वाली होती है, और वो ये कि इस दिन चांद का दर्शन नहीं करना चाहिए, ऐसा कहा जाता है कि इस दिन चांद को देखने से इंसान कलंक का शिकार होता है।


जानिए क्या हैं इस Ganesh Chaturthi 2018 पर विशेष योग



  • गणपति ने चांद को श्राप दिया था दरअसल इसके बारे में एक कथा प्रचलित है, ऐसा पुराणों में वर्णन है कि गणपति ने चांद को श्राप दिया था कि उसका दर्शन करने से इंसान कलंक का भागीदार बनेगा।

  • दरअसल एक बार गणेश जी मूष की सवारी करते वक्त गिर पड़े थे, जिसे देखकर चंद्रमा ने उनका काफी मजाक उड़ाया था।

  • जिस पर गणेश जी को गुस्सा आ गया था।


Skin की हर प्रॉब्लम को दूर करती है मुल्तानी मिटटी


चांद ने मांगी थी भगवान गणेश से माफी


चांद ने मांगी गणपति से माफी उन्होंने उसे डांटते हुए कहा था कि मुसीबत के वक्त मदद करने के बजाय लोगों का मजाक उड़ाने वाले चांद जाओ मैं तुम्हे श्राप देता हूं कि आज के बाद तुम इस विशाल गगन पर राज नहीं कर सकोगे। कोई भी तुम्हारी रोशनी को आज के बाद महसूस नहीं कर सकेगा। आज के बाद कोई भी तुम्हें देख नहीं सकेगा। जिसके बाद चांद को अपनी गलती का एहसास हुआ था, उसने गणपति से माफी मांगी, चांद की हालत देखकर देवतागण भी परेशान हो गए , जिसके बाद उन्होंने गणेश जी से प्रार्थना की, कि वो अपना श्राप वापस ले लें। गणेश जी ने चांद को माफ तो कर दिया लेकिन कहा कि मैं अब चाहकर भी अपना श्राप वापस नहीं ले सकता। परन्तु इस श्राप के असर को कम करने के लिए मैं तुम्हे एक वरदान जरूर दे सकता हूं।


Ganesh Chaturthi 2018 : घर में भगवान गणेशजी की स्थापना करते समय इन बातों का रखे विशेष ध्यान


यह रहेगा गणेश चतुर्थी स्थापना और पूजा का शुभ मुहूर्त-



  • 13 सितंबर 2018 मध्याह्न में गणेश पूजा का समय - 11:03 से 13:30 तक शुभ रहेगा।


 


Ganesh Chaturthi 2018 : भगवान गणेश की स्थापना करते समय इन बातों रखे विशेष ध्यान


 


 



- Sneh lata kaushal



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के