aapkikhabar aapkikhabar

सुप्रीम कोर्ट ने केरल के सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश से लिए पाबंदी हटाया



सुप्रीम कोर्ट ने केरल के सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश से लिए पाबंदी हटाया

सुप्रीम कोर्ट

महिला या पुरुष में कोई भेदभाव नहीं किया जा सकता 


डेस्क-आज सुप्रीम कोर्ट ने अपने अपना एक अहम् फैसला सुनाया है वही केरल के सबरीमाला मंदिर में 10-50 साल के उम्र की महिलाओं के प्रवेश के लिए रोक था वो आज सुप्रीम कोर्ट ने ने मंदिर में महिलाओं के प्रवेश से पाबंदी हटा दिया है |


सुप्रीम कोर्ट ने कहा की मंदिर में पूजा करने का अधिकार सब का है वो चाहे महिला हो या पुरुष हो इसमें कोई भेदभाव नहीं किया जा सकता हैसुप्रीम कोर्टने कहा कि महिला पुरुषों से बिल्कुल भी कम नहीं हैं। एक तरफ तो हमारे देश में महिलाओं को देवी के रूप में पूजा जाता है |


Australia के खिलाफ शुरू होने दो टेस्ट मैचों के लिए Pakistan टीम का हुआ ऐलान


AsiaCup2018 INDvsBAN Bangladesh के खिलाफ India के इन 5 खिलाडियों पर रहेगी सभी नजर



  • वहीं दूसरी ओर उनके मंदिर में जाने पर प्रतिबंध है।

  • फैसला सुनते समय मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा ने कहा कि भगवान के साथ संबंध जैविक या शारीरिक कारकों द्वारा परिभाषित नहीं किया जा सकता है।






-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के