aapkikhabar aapkikhabar

शहीद Bhagat Singh की लाइफ से जुडी कुछ रोमांचक बातें,आइए जानते है



शहीद Bhagat Singh की लाइफ से जुडी कुछ रोमांचक बातें,आइए जानते है

Bhagat Singh

Bhagat Singh को हर युवा की तरह फिल्में देखने का बहुत शौक था।


डेस्क-भारत की आजादी में शहीद Bhagat Singh का नाम सुनहरे अक्षरों से लिखा गया है। आपने आज तक इस आजादी के दीवाने के बारे में सिर्फ किताबों और फिल्मों में देखा होगा।


इसके बावजूद भी उनके मिजाज और लाइफ से जुड़े कई ऐसे राज हैं जिनके बारे में बहुत कम ही लोग जानते हैं। आइए ऐसे ही कुछ राज आपको बताते हैं।


Bhagat Singh थे चार्ली चैपलिन की फिल्मों के शौकीन


Bhagat Singh को हर युवा की तरह फिल्में देखने का बहुत शौक था। अपना खर्च निकालने के बाद उनके पास जो पैसे बच जाया करते थे वो उनसे चार्ली चैपलिन की फिल्में देख लिया करते थे।


जगन्नाथपूरी धाम मंदिर के 10 चमत्कार का रहस्य जानिए


Bhagat Singh रसगुल्ले के थे दीवाने


भगत सिंह खाने पीने के बहुत शौकीन थे। मीठे में उन्हें सबसे ज्यादा रसगुल्ला खाना पसंद था। जब भी उन्हें रसगुल्ला खाने का मन होता तो वो अपने साथ अपने दोस्तों को भी ले जाया करते थे।


लांग शूज पहनने का बेहद शौक


भगत सिंह को लांग शूज पहनने का बेहद शौक था। अमृतसर के म्यूजियम में आज भी उनके लांग शूज रखे हुए हैं। वो एक बेहद खुशदिल युवा थे जिनके शौक दूसरे युवाओं जैसे ही थे।


Bhagat Singh देश ही नहीं परिवार पर भी देते थे जान


अक्सर क्रांतिकारियों के बारे में लोगों की यह धारणा होती है कि उन्हें अपने परिवार से ज्यादा देश से प्यार होता है। लेकिन भक्त सिंह देश के साथ परिवार से भी उतना ही प्यार करते थे। उनकी फांसी की खबर सुनते ही जब उनकी माता जी ने गुरूद्वारे में पाठ करवाया। इस बारे में जब भक्त सिंह को पता चला तो उन्होंने एक अच्छे बेटे की तरह अपनी माता जी से पाठ के बारे में पूछा।


शारदीय नवरात्रि 2018 शुभ मुहूर्त और महत्व जानिए


भविष्य के बारे में जानने की रखते थे ख्वाहिश


हर माता- पिता अपने बच्चे के भविष्य के बारे में जानने की ख्वाहिश रखते हैं। ऐसी ही इच्छा Bhagat Singh के माता-पिता की भी थी। जिसके चलते उन्होंने अपने बेटे की कुंडली एक पंडित को दिखाई। पंडित ने भगत सिंह के माता पिता को बताया की इस बच्चे का खूब नाम होगा। यह बच्चा बहुत ऊंचे पद पर जाएगा। इसके गले में एक सम्मानित चीज भी पहनाई जाएगी। बाद में Bhagat Singh के गले में जो सम्मानित चीज पहनाई गई वो था देश की आजादी के लिए फांसी का फंदा।


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के