aapkikhabar aapkikhabar

लागू होने जा रहे ये नए Rules, आपकी pocket पर पड़ेगा भारी असर



लागू होने जा रहे ये नए Rules, आपकी pocket पर पड़ेगा भारी असर

new rules

नए महीने की शुरुआत हो चुकी है। इसी के साथ कई ऐसे Rules लागू हो रहे हैं|


डेस्क-इन नए Rules का सीधा असर आपकी pocket पर पड़ेगा। इनमें loan से लेकर shopping online तक के नियम शामिल हैं। आइये जानते हैं कि इस महीने से कौन से नए Rules लागू हो रहे हैं-


अब पहले से ज्यादा Interest देना पड़ सकता है


अक्टूबर से दिसंबर तिमाही के लिए छोटी बचत पर Interest दरें बढ़ रही हैं। अब सुकन्या समृद्धि स्कीम, नेशनल सेविंग स्कीम, पब्लिक प्रोविडेंट फंड, किसान विकास पत्र जैसी योजनाओं पर पहले से 0.40 फीसद ज्यादा Interest मिलेगा।


ये है चार ऐसी Schemes जिनमें Invest कर आप कर सकते हैं अच्छी कमाई


10 अक्टूबर तक ले सकेंगे Electoral bond


Electoral bond की बिक्री 10 अक्टूबर तक जारी रहेगी। अगर आप किसी राजनैतिक दल को चुनावी चंदे के लिए Electoral bond देना चाहते हैं तो एसबीआई से Electoral bond सकते हैं।


महंगी हो जाएगी online shopping


इस महीने से जीएसटी कानून के तहत टैक्ट डिडक्टेड एट सोर्स (टीडीएस) और टैक्स कलेक्टेड एट सोर्स (TCS) लागू हो जाएंगे। इसके तहत ई-कॉमर्स कंपनियों को TCS कलेक्शन के लिए उन राज्यों में रजिस्ट्रेशन कराना होगा, जहां उसके सप्लायर्स मौजूद हैं। इससे online shopping पहले से महंगी हो जाएगी।


Flipkart,Amazon और अन्य E-commerce वेबसाइटों पर smartphone खरीदते वक्त इन चीजों का रखें ध्यान


Call drop होने पर कंपनियों पर लगेगा जुर्माना


अब Call drop के लिए प्रावधान लागू हो जाएंगे। टेलीकॉम रेगुलेटर ट्राई ने कहा है कि नए पैरामीटर लागू होने के बाद Call drop होने पर मोबाइल ऑपरेटर कंपनियों पर भारी जुर्माना लगेगा।


महंगा हुआ loan


भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई), आईसीआईसीआई और पंजाब नेशनल (पीएनबी) ने loan की दरें बढ़ा दी हैं। बढ़ी हुईं दरें 1 अक्टूबर से लागू हो रही हैं। एसबीआई ने हर टेन्योर के लिए एमसीएलआर में 0.05 फीसद इजाफा किया है। वहीं पीएनबी ने एक महीने और 3 साल की अवधि वाले loan के लिए एमसीएलआर में 0.05 फीसद और ओवरनाइट कर्ज के दर के लिए 0.2 फीसद की बढ़ोतरी की है। आईसीआईसीआई ने एक साल वाले loan के लिए एमसीएलआर में 0.10 फीसद बढ़ाई हैं।


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के