aapkikhabar aapkikhabar

सुबह के समय सूर्य नमस्कार योग करने की विधि और लाभ जानिए



aapkikhabar
+2

सीधा प्रभाव शरीर पर पड़ने से आपके कई रोग भी दूर हो जाते हैं


डेस्क-सूर्य नमस्कार का अर्थ है सूरज को अर्पन या नमस्कार करना। सूर्य नमस्कार से रोजाना दिन की शुरूआत करने पर आपका तन और मन दोनों ही स्वस्थ रहते हैं। इसे करते समय सूरज की किरणों का सीधा प्रभाव शरीर पर पड़ने से आपके कई रोग भी दूर हो जाते हैं।


इसके अलावा सभी योगासनों से सर्वश्रेष्ठ माना गया सूर्य नमस्कार करने से शरीर को उचित मात्रा में विटामिन डी मिलता है, जिससे कि आप मानसिक तनाव और मोटापा जैसी समस्या को भी दूर कर सकते हैं। रोज 5-10 मिनट सूर्य नमस्कार करने के बाद आपको कोई आसन करने की भी आवश्यकता नहीं होगी। तो चलिए जानते है रोजाना सूर्य नमस्कार करने से आप किन बीमारियों को दूर करके स्वस्थ रह सकते हैं।


पति और पत्नी के टूटते रिश्ते को इस तरीके बचा सकते है जानिए


जानिए मां दुर्गा के दिव्यास्त्र किस बात का हैं प्रतीक



  • सूर्य नमस्कार मन शांत करता है और एकाग्रता को बढ़ाता है। आजकल बच्चे महती प्रतिस्पर्धा का सामना करते है।

  • इसलिए उन्हे नित्यप्रति सूर्य नमस्कार करना चाहिए क्योंकि इससे उनकी सहनशक्ति बढ़ती है

  • परीक्षा के दिनों की चिंता और असहजता कम होती है।

  • सूर्य नमस्कार के नियमित अभ्यास से शरीर में शक्ति और ओज की वृद्धि होती है।

  • यह मांसपेशियों का सबसे अच्छा व्यायाम है और हमारे भविष्य के खिलाड़ियों के मेरुदण्ड और अंगो के लचीलेपन को बढ़ता है।

  • 5 वर्ष तक के बच्चे नियमित सूर्य नमस्कार करना प्रारंभ कर सकते हैं।

पिछली स्लाइड     अगली स्लाइड


सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के