aapkikhabar aapkikhabar

बजट के अभाव में नौनिहालों का लटका दिवाली का तोहफा



बजट के अभाव में नौनिहालों का लटका दिवाली का तोहफा

जिला बेसिक शिक्षा कार्यालय

बेसिक शिक्षा निदेशक का फरमान हवा हवाई में


निर्धारित अवधि के भीतर बच्चों को नहीं मिल सका निशुल्क स्वेटर


ठंड का आगाज शुरू होने के बाद बिना स्वेटर के स्कूल जाने को विवस नौनिहाल


बलरामपुर अविनाश पाण्डेय सरकार भले ही परिषदीय नौनिहालों को दिवाली के पहले ठंड से बचाने के लिए निशुल्क स्वेटर का तोहफा देने का फरमान जारी कर दिया हो लेकिन हकीकत में सरकार का फरमान धरातल से कोसों दूर है स्वेटर वितरण का आदेश देने के बाद भी वे शिक्षा महकमा को अभी तक बजट निर्गत ना करना निर्धारित अवधि के भीतर स्वेटर वितरण आदेश हवा हवाई साबित हो रहा है।
जिले में 1576 प्राथमिक व 5 46 उच्च प्राथमिक विद्यालय संचालित है। इन दोनों विद्यालयों में करीब सवा दो लाख छात्र पंजीकृत है। इन बच्चों को ठंड शुरू होते ही सरकार ने दिवाली के पहले निशुल्क स्वेटर का तोहफा देने का बेसिक शिक्षा महकमा को आदेश दे रखा है। बताते चलें कि सच्ची सब 2018 19 के लिए बेसिक शिक्षा निदेशक डॉ सर्वेंद्र विक्रम सिंह ने बेसिक शिक्षा अधिकारी को 18 सितंबर 2018 को आदेश जारी किया था इस आदेश में 15 अक्टूबर 2018 से 31 अक्टूबर 2018 के बीच पर्स दे छात्र-छात्राओं को निशुल्क उच्च गुणवत्ता का ऊनी स्वेटर दिवाली के तोहफे के रूप में देने का आदेश किया है ।साथ ही साथ विभाग को निर्देशित किया है ।स्वेटर वितरण कार्य निश्चित समय के भीतर पूरा करना सुनिश्चित करें व शासन को निशु स्वेटर वितरण का ऑनलाइन पोर्टल पर रिपोर्ट अपलोड करें विभाग की मानें तो सरकार ने भले ही निशुल्क स्वेटर वितरण का आदेश जारी कर दिया है लेकिन अभी तक बेसिक शिक्षा महकमा को स्वेटर वितरण का बजट नहीं प्राप्त हुआ है बजट न मिलने से बच्चों को स्वेटर वितरण कार्य ठंडे बस्ते में पड़ा हुआ है।


नहीं मिला बजट स्वेटर वितरण कार्य ठप


बेसिक शिक्षा निदेशक सर्वेंद्र विक्रम बहादुर सिंह ने भले ही 17 अक्टूबर 2018 को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को पत्र जारी कर परिषदीय स्कूलों में स्वेटर वितरण का देश दिया है ।वहीं दूसरी तरफ बेसिक शिक्षा विभाग के पटल सहायक व सामुदायिक सहभागिता जिला समन्वयक निरंकार पांडे की माने तो विभाग ने स्वेटर वितरण के संबंध में तैयारियां कर रखी हैं। लेकिन बजट न मिलने के कारण अभी बच्चों को स्वेटर वितरण नहीं किया जा सका है बजट मिलने के बाद ही स्वेटर वितरण का कार्य संभव हो सकेगा ।



बजट के अभाव में स्वेटर वितरण कार्य खटाई में जिले के करीब 22 सौ से अधिक परिषदीय विद्यालयों के सवा दो लाख बच्चों को निशुल्क स्वेटर दिया जाना है। बेसिक शिक्षा निदेशालय से स्वेटर वितरण की जो तिथि निर्धारित की गई थी वह भी बीत रही है ।बजट न मिलने के कारण स्वेटर वितरण का आदेश हवा हवाई साबित हो रहा है। ठंडक शुरू होने को है। लेकिन बच्चों का स्वेटर वितरण बजट के भाव में खटाई में पड़ा हुआ है ।


अधिकारी के बोल


बेसिक शिक्षा निदेशक ने 15 अक्टूबर से 31 अक्टूबर 2018 के बीच निशुल्क स्वेटर वितरण का आदेश दिया है ।लेकिन बजट अभी तक विभाग को प्राप्त ना होने से स्वेटर वितरण कार्य संभव नहीं हो सका है। बजट मिलते ही बच्चों को स्वेटर वितरण शुरू करा दिया जाएगा।


 


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के