aapkikhabar aapkikhabar

ये है भारत के वो गैंगरेप जिसे पूरा देश हिल गया था



aapkikhabar
+3

डेस्क-आज हम आपको को कुछ ऐसी खबरों के बारे में बताने जा रहे है जिसे पूरा देश हिल गया था जी हां 3 ऐसी गैंगरेप बारे बताने जा रहे है  


हरियाणा के रेवाड़ी जिले में 19 साल की छात्रा के साथ गैंगरेप के मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गैंगरेप मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। सोमवार को तीनों आरोपियों को सिविल कोर्ट में पेश किया गया, जहां से इन्हें पांच दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है। तीनों आरोपियों पंकज, नीशू और मनीष को लेकर कई ऐसी बातें भी सामने आई हैं, जो चौंकाने वाली हैं।


पीड़िता के पिता को गुरु कहता था पंकज
एक आरोपी पंकज सेना में है। पंकज को डेढ़ साल पहले पीड़िता के पिता की बदौलत ही सेना में नौकरी मिली थी। नौकरी मिलने पर उसने पंकज को सेना की नौकरी मिली थी तो उसने पीड़िता के पिता को गुरु मानकर सम्मानित भी किया था। पंकज कबड्डी का अच्छा खिलाड़ी है और इस खेल में भी पीड़िता के पिता ने कई दफा उसकी मदद की। जान-पहचान के चलते वो पीड़िता के घर आता-जाता था और इसी का उसने फायदा उठाकर लडकी को लिफ्ट देकर अगवा किया।


मनीष साधु बनने की बात कह घर छोड़ चुका


एक दूसरा आरोपी नीशू पीड़ित छात्रा का पड़ोसी है। नीशू और पंकज में दोस्ती थी। नीशु पर गांव की एक युवती ने पहले भी छेड़छाड़ का आरोप लगाया था। घटना के दिन युवती को अगवा करने के बाद पंकज ने निशु को बुलाया था और उसके बाद निशु ने मनीष को बुला लिया। वहीं मनीष के परिवार का कहना है कि वो काफी वक्त से घर से दूर है। मनीष के पिता ने पुलिस से कहा कि वह साधु हो जाने की बात कहकर काफी पहले परिवार छोड़ चुका है।


19 साल की लड़की से गैंगरेप


हरियाणा 19 साल की छात्रा के साथ बीते बुधवार को गैंगरेप का मामला सामने आया था। वह कोचिंग सेंटर से घर लौट रही थी उसी समय बस अड्डे से पंकज और मनीष नाम के दो युवकों ने युवती को लिफ्ट देने के बहाने अगवा कर लिया था। आरोपी युवती के गांव के ही रहने वाले थे इसलिए वह उन्हें जानती थी। आरोपी युवती को लिफ्ट देकर उसे एक सुनसान स्थान पर ले गए जहां उसे नशीला पेय पदार्थ पिलाकर उससे सामूहिक बलात्कार किया।

पिछली स्लाइड     अगली स्लाइड


सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के