aapkikhabar aapkikhabar

मंगलवार को हनुमान पूजा में गलती से भी ना करे ये भूल



मंगलवार को हनुमान पूजा में गलती से भी ना करे ये भूल

हनुमान

मंगलवार को हनुमान जी का दिन माना  जाता है। इस दिन हनुमान जी की पूजा करने से सभी कष्ट दूर होते हैं।


डेस्क-जो लोग मंगलवार को हनुमान जी की पूजा आैर उनका व्रत करते हैं उन्हें इस दिन नमक का सेवन नहीं करना चाहिए।जो दान दें विशेष रूप से मिठाई तो उस दिन उसका स्‍वयं सेवन ना करें।


मंगलवार के दिन हनुमान जी का जन्म हुआ था जिसकी वजह से उनकी पूजा अर्चना मंगलावार के दिन ही की जाती है|


इसके साथ ही हनुमान जी की कृपा बरसती है। कहा जाता है जिन लोगों की कुडंली ने मंगल दोष होता है, उन लोगों को इस दिन हनुमान जी की पूजा के लिए कहा जाता है। क्या आप जानते हैं मंगलवार को कुछ ऐसे काम हैं जिन्हे अशुभ माना जाता है। इस दिन इन कामों को करने से बजरंगबली रुष्ट हो जाते हैं।


Vastu Tips :घर के मेन गेट पर करे ये उपाय जिससे घर से दूर हो जाएगी Negative Energy


 मंगलवार के दिन हनुमान जी का जन्म हुआ था जिसकी वजह से उनकी पूजा अर्चना मंगलावार के दिन ही की जाती है। इसके अलावा लोग हनुमान जी की पूजा शनिवार को भी करते हैं। कहा जाता है कि हनुमान जी ने शनिदेव को युद्ध में हराया था। जिसके बाद शनि देव ने उनको वचन दिया कि जो लोग शनिवार के दिन हनुमान जी की पूजा करेंगे उन्हें कभी भी शनि कष्ट नहीं होगा।


आइए जानते है कि हनुमान जी की पूजा करते समय  क्या नही करना चाहिए 



  • संकटमोचन हनुमान की पूजा करत समय कौन सी ऐसी गलतियां हैं जो व्यक्ति को कभी नहीं करनी चाहिए।

  • जो लोग हनुमान जी की पूजा और मंगलवार को उनका व्रत रखते हैं उन्हें इस दिन नमक का सेवन नहीं करना चाहिए।

  • याद रखें इस दिन जो भी वस्तु दान दें विशेष रूप से मिठाई तो उस दिन खुद मीठे का सेवन ना करें। 

  • राम भक्त हनुमान माता सीता में अपनी माता का दर्शन करते थे।

  • बाल ब्रह्मचारी होने की वजह से वह स्त्रियों के स्पर्श से दूर रहते थे।

  • मान्यता है कि किसी भी माता स्वरूप स्त्री से अपना पूजन या स्पर्श करवाना उन्हें पसंद नहीं था।

  • बावजूद इसके अगर कोई स्त्री चाहे तो वह हनुमान जी के चरणों में दीप प्रज्जवलित कर सकती हैं।

  • लेकिन ऐसा करते समय ना तो उन्हें छुए ना ही उन्हें तिलक लगाएं।

  •  हनुमान जी की पूजा करते समय ध्यान रखें कि उनका पसंदीदा रंग लाल है।

  • भूलकर भी काले या सफेद रंग के कपड़े पहनकर हनुमान जी की पूजा न करें।

  • ऐसा करने पर आपकी पूजा पर नकरात्मक प्रभाव पड़ता है इसलिए हमेशा हनुमान जी की पूजा लाल और पीले वस्त्र पहनकर ही करें। 

  • भूल कर भी काले या सफ़ेद वस्त्र धारण करके हनुमान जी की पूजा न करें।

  • ऐसा करने पर पूजा का नकरात्मक प्रभाव पड़ता है।

  • हनुमान जी को लाल रंग प्रिय है इसलिए उनकी पूजा लाल, या पीले वस्‍त्र में ही करें।

  • मांस या मदिरा इत्यादि का सेवन करके भूल से भी ना तो हनुमान जी के मंदिर ना जाये और ना घर पर उनकी पूजा न करें।

  • एेसा करने पर हनुमान जी कुपित हो भयंकर परिणाम भुगतने का दंड दे सकते है।

  • यदि आप का मन अशांत है और आप क्रोध में है तब भी हनुमान जी की पूजा न करें।

  • शांतिप्रिय हनुमान को ऐसी पूजा से प्रसन्‍नता नहीं होती और उसका फल नहीं मिलता।

  • हनुमान जी की पूजा में चरणामृत का प्रयोग नहीं होता है।

  • खंडित अथवा टूटी मूर्ति की पूजा करना भी वर्जित है।


 


 


 गंजे सिर पर भी अब फिर से आ सकेंगे बाल जाने कैसे


 


 


 



-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के