aapkikhabar aapkikhabar

सात किलो चरस के साथ दो अंतर्राष्ट्रीय तस्कर गिरफ्तार



सात किलो चरस के साथ दो  अंतर्राष्ट्रीय तस्कर गिरफ्तार

उतरौला पुलिस

 


बलरामपुर-बलरामपुर जिला भारत नेपाल सीमा पर बसा है। सीमावर्ती क्षेत्र होने व खुली सीमाओं के कारण विभिन्न प्रकार के अपराधों की संम्भावनाओं से नकारा नहीं जा सकता है। नेपाल राष्ट्र से आये दिन अवैध हथियार, नशीले पदार्थ, शराब, पान मसाले सहित अन्य चीजों की तस्करी होती है। तस्कर दोनों देशों की मित्रता व खुली सीमाआंे का भरपूर लाभ उठाते है और आसानी से एक देश से दूसरे देश में चले जाते है। शनिवार को उतरौला पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली। पुलिस ने सात किलो चरस के साथ दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया। पकड़े गए चरस की कीमत अंर्तराष्ट्रीय बाजार में करोड़ों रूपए बताई जा रही है।



उतरौला पुलिस को मिली बड़ी सफलता



एसपी अमित कुमार ने बताया कि उतरौला पुलिस अपर पुलिस अधिक्षक के पर्यवेक्षण में लम्बे समय से तस्करों की निगरानी कर रहे थे। उतरौला पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली की दो व्यक्ति चरस लेकर मोटरसाइकिल से उतरौला की ओर आ रहे है। मुखबिर की सूचना पर विश्वास करते हुए उतरौला कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक हमराही पिाहियों के साथ मुनेश्वरगंज तिराहा पर गाढ़ाबन्दी कर बैठ गए। कुछ देर मोटर साइकिल से दो व्यक्ति आते दिखे। जिन्हे रोक कर पुलिस ने तलाशी ली। पुलिस ने तलाशी के दौरान अभियुक्तों के पास सात किलो चरस बरामद किया। पूछतांछ के दौरान अभियुक्तों ने अपना नाम किशोर कुमार चैधरी पुत्र रामकुमार चैधरी निवासी गेरुआ जोत थाना गणेशपुर जिला कपिलवस्तु राष्ट्र नेपाल व योगेन्द्र प्रसाद वर्मा पुत्र शेषराम वर्मा निवासी मझगवा कला थाना पचपेडवा जनपद बलरामपुर बताया।


नशीले पदार्थो के तस्करी का बड़ा नेटवर्क सक्रिय


करोड़ो की चरस के साथ पकड़े गए अभियुक्तों ने बताया कि वह गांव देहात से सटी सीमाओं से चरस तस्क्री कर लाते है। मोटरसाइकिल के माध्यम से चरस कानपुर पहुंचाते है। जहां उन्हें 12 हजार रूपए प्रति किलो चरस के हिसाब से मिलता है। कानपुर से चरस अन्य शहरों में बेचीं जाती है। सूत्रों की माने तो कानपुर से चरस गोवा व अन्य कई बड़े शहरों में भेजी जाती है जहां से अन्य किसी माध्यमों से चरस बेची जाती है। पकड़े गए चरस की अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कीमत दो करोड़ रूपए से अधिक आंकी गई है।



सर्विलासं टीम ने निभाई अहम भूमिका


जिले में अपराध नियंत्रण में सर्विलांस टीम अहम भूमिका निभा रही है। कई बड़े अपराधों का खुलासा सर्विलांस की टीम सक्रियता से ही संभव हो पाया है। इतने बड़े मात्रा चरस बरामदगी में भी सर्विलांस टीम ने अहम भूमिका अपनाई है। एसपी अमित कुमार ने बताया कि तस्करी पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस टीम अपना काम कर रही है।


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के