aapkikhabar aapkikhabar

क्यों होता है Thyroid जानें ठीक करने के घरेलू उपाय



क्यों होता है Thyroid जानें ठीक करने के घरेलू उपाय

Thyroid

 Thyroid  से राहत पाने के लिए नियमित रूप से प्रतिदिन एक गिलास दूध का सेवन करना चाहिए|


डेस्क-थायराइड एक तरह की ग्रंथि होती है जो गले में बिल्कुल सामने की ओर होती है. यही ग्रंथि शरीर के मेटाबॉलिज्म को कंट्रोल करती है. यानी जो भी भोजन आप सेवन करते हैं. उससे ऊर्जा में परिवर्तित करने का काम करती है. इसके अलावा थायराइड आपके हृदय, मांस पेशियों, हड्डियों व कोलेस्ट्रोल को भी प्रभावित करती है|


Thyroid  इसलिए होता है



  • यह सिर्फ एक बढ़ा हुआ थायराइड ग्रंथि है जिसमें थायराइड हार्मोन बनने की क्षमता कम हो जाती है.

  • सोया प्रोटीन, कैप्सूल और पाउडर के रूप में सोया उत्पाद की जरूरत से ज्यादा प्रयोग करना थायराइड होने के वजह हो सकते हैं.

  • कई बार दवाओं के साइड इफेक्ट्स भी थायराइड की वजह होते हैं.

  • थायराइड की समस्या पिट्यूटरी ग्रंथि के वजह भी होती है क्योंकि यह थायराइड ग्रंथि हार्मोन का उत्पादन करने के संकेत देने में सक्षम नहीं होती है.

  • आहार में आयोडीन की कमी या ज्यादा मात्रा में भी सेवन करना थायराइड की समस्या को बढ़ावा देता है.

  • फिर गर्दन और चेस्ट की विकिरण थेरेपी के कारण या टॉन्सिल्स, लिंफ नोड्स, थाइमस ग्रंथि की समस्या या मुहासे के लिए विकिरण उपचार के वजह से भी थायराइड होने की समस्या हो सकती है.

  •  तनाव भी थायराइड का कारण बन सकता है क्योंकि जब तनाव का स्तर अधिक हो तो इसका सबसे ज्यादा असर हमारी थायराइड ग्रंथि पर पड़ता है.

  • जिससे यह ग्रंथि हार्मोन के स्राव को अधिक कर देती है.

  • थायराइड का एक अनुवांशिक कारण भी है अगर आपके परिवार में किसी को थायराइड की समस्या है तो आपको थायराइड होने की संभावना अधिक रहती है. यह थायराइड का सबसे मुख्य कारण है.

  • ग्रेव्स रोग थायराइड का सबसे बड़ा कारण है. इसमें थायराइड ग्रंथि से थायराइड हार्मोन का स्राव बहुत ज्यादा बढ़ जाता है|


थायराइड दूर करने के आयुर्वेद उपाय



  • थायराइड में शिग्र पत्र, कांचनार, पुनर्नवा के काढ़ा का प्रयोग कर सकते हैं. इसके लिए इस काढ़ा को प्रतिदिन सुबह खाली पेट 30 से 50 मिलीलीटर तक सेवन करना चाहिए.

  • अलसी के बीज को पीसकर चूर्ण बना लें. अब इस चूर्ण को एक चम्मच की मात्रा में प्रतिदिन सुबह खाली पेट सेवन करने से थायराइड से राहत मिलती है.

  • थायराइड की बीमारी में नारियल के तेल का प्रयोग भी करना फायदेमंद होता है.

  • इसके लिए एक से दो चम्मच नारियल तेल गुनगुना करके दूध के साथ खाली पेट- सुबह शाम सेवन करने से लाभ होता है.

  • थायराइड दूर करने के लिए विभीतिका का चूर्ण, अश्वगंधा का चूर्ण और पुष्कवरण का चूर्ण 3-3 ग्राम की मात्रा में शहद के साथ या गुनगुना पानी के साथ सुबह-शाम सेवन करने से

  • थायराइड से राहत मिलती है.

  • थायराइड दूर करने के लिए धनिया भी मददगार होता है.

  • इसके लिए एक से दो चम्मच धनिया को रात को तांबे के बर्तन में पानी लेकर भी भिंगो दें.

  • सुबह इसे अच्छी तरह मसलकर छान लें और उस पानी को सुबह खाली पेट पिएं इससे थायराइड से राहत मिलती है.

  • थायराइड से राहत पाने के लिए नियमित रूप से प्रतिदिन एक गिलास दूध का सेवन करना चाहिए.

  • थायराइड के रोगियों को अगर फल खाने हैं तो आम, शहतूत, तरबूज और आंवले का सेवन करना फायदेमंद होता है.

  • खाने में दालचीनी, अदरक, लहसुन, सफेद प्याज और स्ट्रॉबेरी की पत्तियों का सेवन बढ़ा देना चाहिए. इन रोगियों को खाना पकाने के लिए नारियल तेल का प्रयोग करना चाहिए.

  • थायराइड से ग्रसित लोगों को लघु और सुपाच्य भोजन करना चाहिए. इनके लिए खिचड़ी का प्रयोग करना भी फायदेमंद होता है.


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के