aapkikhabar aapkikhabar

उत्तराखंड के सीएम के खिलाफ भ्रष्टाचार वीडियो हो रहा है वायरल



उत्तराखंड के सीएम के खिलाफ भ्रष्टाचार वीडियो हो रहा है वायरल

बीजेपी

नयी दिल्ली। राजधानी के प्रेस क्लब में एक निजी चैनल के मालिक ने एक वीडियो को दिखा कर उत्तराखंड के सीएम पर करप्पशन का आरोप लगाया है। आरोप यह भी है कि सीएम के भाई वीरेंद्र सिंह के जरिये डील करायी जाती है। यह वीडियो ऐसे समय पर जारी किया गया है जब कि आम चुनाव सिर पर आ गये हैं। मोदी सरकार और बीजेपी के लिये यह बड़ी परेशानी का सबब बन सकता है।





मालूम हो कि पिछले साल एक निजी चैनल के मालिक व संपादक उमेश कुमार कोदेहरादून में सरकार की शिकायत पर पुलिस ने गंभीर आरोपों में गिरफ्तारकिया था। उमेश कुमार पर आरोप था कि वो प्रदेश के सीएम के खिलाफ स्टिंग के जरिये सरकार गिराने की साजिश रच रहे थे। पिछले कई माह से उमेश उत्तराखंड की जेल में सजा काट रहे थे। हाल ही मंे उमेश कुमार को जमानत पर छोड़ा गया था। देश भर में उनकी गिरफ्तारी को लेकर काफी चर्चा भी हुई थी।प्रेसवार्ता के दौरान पत्रकार उमेश कुमार ने आंखों में आंसू लाते हुए कहा कि मेरे साथ इतना बुरा हुआ कि मेरे बच्चों और पत्नी का घर से निकलना दूभर हो गया था। मेरे छोटे छोटे पढ़ने नहीं जा पा रहे थे। लेकिन इन सबसे मेरे हौसले पस्त नहीं हुए बल्कि मेरे इरादे और भी मजबूत हो गये। इसी लिये उत्तराखंड सीएम के भ्रष्टाचार के खिलाफ आज मैं लिये खुलासा करने की हिम्मत जुटा पाया हूं।

ये उम्मीद की जा रही थी कि इतना सब कुछ होने के बाद उमेश कुमार उत्तराखंड सरकार के खिलाफ कोई खबर का खुलासा नहीं करेंगे। लेेकिन अपनी रिहाई के कुछ दिनों बाद ही उमेश कुमार ने दिल्ली प्रेस क्लब में एक प्रेसवार्ता के दौरान उत्तराखंड सरकार व सीएम पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया। प्रमाण के तौर पर उन्होंने एक वीडियो को सामने चलाया जिसमें सीएम त्रिवेंस सिंह रावत के भाई वीरेंद्र सिंह रावत वन विभाग के ठेकेदार से काम करवाने की डील करते दिख रहे हैं। इसमें वीरेंद्र सिंह रावत और एक अन्य शख्स आपस में बातचीत करते दिख रहे हैं।


विनय गोयल



 

-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के