aapkikhabar aapkikhabar

अपने Smartphone से Fake App से बचाने के लिए अपनाएं ये Tips



अपने Smartphone  से Fake App से बचाने के लिए अपनाएं ये Tips

Smartphone

App डाउनलोड करने से पहले प्ले स्टोर या ऐप स्टोर पर जाकर उस ऐप के बारे में रिव्यू जरूर पढ़ लें।



डेस्क-पिछले दिनों कई ऐसे मामले सामने आ चुके हैं जिनमें Fake App की मदद से यूजर्स की बैंकिंग जानकारियां लीक हुई हैं। इन Fake App के जरिए लोगों के बैंक से पैसों की हेराफरी भी की जाती हैंइन दिनों एंड्रॉइड हो या आईओएस दोनों ही Smartphone के लिए Fake App की भरभार है।


इन ऐप्स को इंस्टॉल करने के बाद आपके स्मार्टफोन से डाटा की चोरी की जा सकती है। पिछले दिनों कई ऐसे मामले सामने आ चुके हैं जिनमें फेक ऐप्स की मदद से यूजर्स की बैंकिंग जानकारियां लीक हुई हैं। इन फर्जी ऐप्स के जरिए लोगों के बैंक से पैसों की हेराफरी भी की जाती हैं।


 


ऐसे टिप्स के बारे में बताने जा रहे हैं जिसकी मदद से आप इन Fake App की पहचान कर सकें और अपने Smartphone में इंस्टॉल करने से बच सकें



Fake App  के बचने के tips



  • इन Fake App से बचने के लिए सबसे पहले ये चेक करें कि आप उस ऐप को कहां से डाउनलोड कर रहे हैं।

  • किसी भी ऐप को उनकी आधिकारिक वेबसाइट से ही डाउनलोड करें या फिर गूगल प्ले स्टोर या एप्पल प्ले स्टोर में जाकर यह चेक कर लें कि ऐप वेरिफाइड है कि नहीं।

  • जेनुईन ऐप्स आमतौर पर प्ले स्टोर या ऐप स्टोर पर वेरिफाइड होते हैं।

  • आपको गूगल प्ले स्टोर या ऐप स्टोर पर फर्जी ऐप्स भी मिलेंगे लेकिन उसे डाउनलोड करने से पहले आप उन ऐप्स के आधिकारिक वेबसाइट को एक बार चेक करके यह सुनिश्चित कर लें कि जो ऐप आप डाउनलोड करने वाले हैं वो सही है।

  • ऐप डाउनलोड करने से पहले प्ले स्टोर या ऐप स्टोर पर जाकर उस ऐप के बारे में रिव्यू जरूर पढ़ लें।

  • कई बार हम ऐसे ऐप्स डाउनलोड कर लेते हैं जो हमारे लिए उपयोगी नहीं होता है और हमारे स्मार्टफोन को स्लो बना देता है।

  • इस तरह के ऐप्स आपके स्मार्टफोन में जगह भी ले लेते हैं और आपके फायदा भी नहीं मिलता है।

  • इसलिए ऐप को डाउनलोड करने से पहले आप उसका रिव्यू जरूर पढ़ लें। फर्जी ऐप्स की बेसिक जानकारी में आपको गलती मिल जाए तो समझ जाएं कि ऐप फर्जी है।

  • किसी भी ऐप को कोई डेवलपर ही बनाता है।

  • अगर ऐप सही होगा तो आपको उस ऐप को बनाने वाले डेवलपर के बारे में जानकारी जरूर मिल जाएगी।

  • आप उस डेवलपर को सोशल मीडिया या वेबसाइट के जरिए ढ़ूंढ सकते हैं। अगर आपको किसी भी ऐप के डेवलपर की जानकारी नहीं मिलती है तो आप समझ जाएं कि ऐप फर्जी है और उसे भूलकर भी डाउनलोड नहीं करें।


BollywoodNews:ओम प्रकाश जी को सादर विनम्र श्रद्धांजलि


 


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के