aapkikhabar aapkikhabar

बाराबंकी पुलिस का ताबड़तोड़ कारनामा , एक बार फिर तीन करोड़ की मार्फीन के साथ अभियुक्त हुआ गिरफ्तार



बाराबंकी पुलिस का ताबड़तोड़ कारनामा , एक बार फिर तीन करोड़ की मार्फीन के साथ अभियुक्त हुआ गिरफ्तार

बाराबंकी पुलिस

 


बाराबंकी-बाराबंकी जो देश में अवैध मार्फीन का गढ़ माना जाता है , पूरे देश के मार्फीन तस्करों की पहली पसन्द बाराबंकी ही है मगर अब तस्करी का यह गढ़ टूटने लगा है । बाराबंकी पुलिस ने मानो ठान लिया है कि जनपद से इसकी तस्करी का जाल तोड़ कर ही रहेंगे । शायद यही कारण है कि जबसे बाराबंकी में डॉक्टर सतीश कुमार की आमद हुई है तबसे अवैध मार्फीन के काम में जुड़े तस्करों के हाल बेहाल है । आये दिन करोड़ों की मार्फीन पकड़ कर पुलिस इनकीं कमर तोड़ने का काम कर रही है । इसी क्रम में आज एक बार फिर तीन करोड़ की अवैध मार्फीन के साथ एक अभियुक्त पुलिस के हत्थे चढ़ गया है ।



बाराबंकी पुलिस की गिरफ्त में खड़ा यह युवक भारी -


भरकम मार्फीन के साथ गिरफ्तार हुआ है । मार्फीन तस्करी के गढ़ को तोड़ने की घटना आज कल आम हो गयी है । सिर्फ फरवरी माह की बार करें तो करोड़ों की अवैध मार्फीन को पुलिस ने पकड़ ने पकड़ कर तस्करों की कमर तोड़ने का काम किया है । इसी क्रम में आज यह अभियुक्त 3 करोड़ की मार्फीन के साथ गिरफ्तार हुआ है हालाकि 3 करोड़ की रकम काफी छोटी लगती है क्योंकि तीन दिन पहले ही इसी पुलिस ने 40 करोड़ की मार्फीन के साथ कुछ अभियुक्तों को गिरफ्तार किया था । बाराबंकी पुलिस की तस्करों पर हो रही कार्यवाई की रफ्तार किसी बुलेट ट्रेन से कम नही लगती । अगर यही रफ्तार रही तो मार्फीन तस्करों से यह जिला एकदम खाली हो जाएगा ।


पुलिस की पकड़ में आये अभियुक्त मोहम्मद इरशाद ने बताया कि उस इस समान को पहुंचाने के लिए एक हज़ार रुपये का लालच दिया गया था । यह मार्फीन कहाँ स आती है और कहां बेंची जाती है इस बात की उसे कोई जानकारी नही है ।


बाराबंकी के अपर पुलिस अधीक्षक आर.एस .गौतम ने बताया कि मसौली थाने की पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर मोहम्मद इरशाद को 3 करोड़ की मार्फीन के साथ गिरफ्तार किया है । अभी इस व्यक्ति से पूँछतांछ हो रही है और इसके साथ इस काले कारोबार में जुटे सह अभियुक्तों को गिरफ्तार करने का प्रयास कर रही है । अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पूँछतांछ में इस अभियुक्त ने बताया है कि इसके भाई ने हो मार्फीन को पहुंचाने की जिम्मेदारी सौंपी थी । इसके भाई और अन्य साथियों को भी पुलिस गिरफ्तार करने का प्रयास कर रही है ।


 


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के