aapkikhabar aapkikhabar

बाराबंकी पुलिस ने एक बार फिर पकड़ी मार्फीन , साढ़े तीन करोड़ की मार्फीन के साथ दो अभियुक्त गिरफ्तार



बाराबंकी पुलिस ने एक बार फिर पकड़ी मार्फीन , साढ़े तीन करोड़ की मार्फीन के साथ दो अभियुक्त गिरफ्तार

बाराबंकी पुलिस

बाराबंकी में मार्फीन की तस्करी का कारोबार कितना बड़ा है यह बात अब लोगों की समझ में आ रही है । क्योंकि आएदिन पुलिस करोड़ो की कीमत की मार्फीन अभियुक्तों के साथ बरामद कर रही है । इस अभियान की गति इतनी तेज है कि लगता है बाराबंकी जनपद से मार्फीन तस्करों के पाँव उखड़ने वाले है । इसी क्रम में आज एक बार फिर करोड़ों की कीमत वाली मार्फीन को दो अभियुक्तों के साथ पुलिस ने फिर बरामद किया है । पुलिस का दावा है कि पकड़े गए अभियुक्तों में से एक पेशेवर तस्कर है और इसकी तस्करी के कई मामले प्रकाश में आ चुके है । पुलिस ने इस अभियुक्तो को जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया है ।


 


बाराबंकी पुलिस ने मानो मार्फीन तस्करी के खिलाफ अभियान छेड़ रखा है । आये दिन करोड़ो की मार्फीन बरामद करना जैसे पुलिस की आदत बन चुकी है । इसी क्रम में आज एक बार फिर पुलिस ने करोड़ों की मार्फीन पकड़ कर तस्करों की कमर तोड़ने का काम किया है । दरअसल पुलिस को सूचना मिली थी कि दो व्यक्ति जो मार्फीन की तस्करी में लिप्त है , वह मार्फीन लेकर जाने वाले है । मुखबिर की इस सूचना पर पुलिस ने अपना जाल फैलाया और यह तस्कर पुलिस की जाल में आ फंसे । पकड़े गए दो अभियुक्तों में से एक पेशेवर तस्कर है और इसके कई मामले पुलिस की संज्ञान में है । अब एक बार फिर पुलिस इनके कारनामों को विभिन्न थानों में पता करवा रही है ।



बाराबंकी के अपर पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार शर्मा ने बताया कि पुलिस ने इस समय मार्फीन तस्करों के खिलाफ अभियान छेड़ रखा है । जिसकी बानगी अक्सर दिखाई भी देती है । पुलिस को आज मुखबिर द्वारा सूचना मिली थी कि आज जैदपुर थाने के गाँव टिकरा से ( जो मार्फीन की तस्करी के लिए विख्यात है ) कुछ लोग भारी मात्रा में मार्फीन लेकर जाने वाले है । मुखबिर की सूचना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने एक टीम बनाई । इस टीम ने मोहम्मद अनस और मोहम्मद इरशाद को साढ़े तीन करोड़ की एक किलो सौ ग्राम मार्फीन के साथ गिरफ्तार कर लिया । पकड़े गए दोनों अभियुक्तों में से मोहम्मद इरशाद पहले भी तस्करी के आरोप में पकड़ा जा चुका है और यह पेशेवर तस्कर है । इन अभियुक्तों को गिरफ्तार करके इन्हें जेल की सलाखों के पीछे भेजने का काम पुलिस तो कर ही रही है साथ ही साथ इन अभियुक्तों के बारे में दर्ज और अपराधों के बारे में पता लगाया जा रहा है ।


 


रिपोर्टर, सैफ मुख्तार


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के