aapkikhabar aapkikhabar

70 साल के बुजुर्ग से यूपी पुलिस को लगता है डर



70 साल के बुजुर्ग से यूपी पुलिस को लगता है डर

aapkikhabar.com

कोतवाली पुलिस को पत्रकारो और सत्तर वर्षीय बुजुर्गों से चुनाव में शांति भंग होने की आशंका ।
मिश्रित सीतापुर / लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 को लेकर निर्वाचन आयोग ने सकुशल मतदान संपन्न कराने के वास्ते अराजक तत्वों के बिरुध्द शांति भंग आशंका की कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं ।


परन्तु कोतवाली पुलिस की दूषित कार्य शैली क्षेत्र में चर्चा का बिषय बनी हुई है । क्षेत्र के सम्मानित ब्यक्तियों और अति बुजुर्ग लोगों पर कोतवाली पुलिस को चुनाव में शांति भंग करने की आशंका बनी हुई है । जब कि क्षेत्र के अराजक तत्व पुलिस के संरक्षण में खुले आम घूम रहे है । कोतवाली मिश्रित के हेल्का नं. एक में पड़ने वाले ग्राम गजोधपुर निवासी पूर्व बन दरोगा शिवकुमार शुक्ला पुत्र बलराम शुक्ला उम्र लग भग 72 वर्ष जो सरकारी सेवा से रिटायर होने के बाद वर्तमान समय चलने उठने में भी असमर्थ हैं । कोतवाली पुलिस को सिर्फ उनसे ही नही शांति भंग होने की आशंका है । बल्कि उनके पत्रकार पुत्र दीपक शुक्ला व अन्य विनोद शुक्ला , पंकज शुक्ला , अमित शुक्ला , सुमित शुक्ला ,पुत्र गण शिवकुमार शुक्ला यानी पूरे परिवार से चुनाव में शांति भंग होने की आशंका बनी हुई है ।


 एसडीएम की भी नही सुनती है पुलिस 


इस मांमले को लेकर बुजुर्ग के पत्रकार पुत्र दीपक शुक्ला ने दिनांक 11अप्रैल को एक शिकायती  प्रार्थना पत्र यहां के उपजिलाधिकारी राजीव पाण्डेय को देकर मांमले में हस्तक्षेप करने की मांग की थी। परन्तु उन्होने कहा कोतवाली पुलिस हमारी बात तो सुनती नही फिर भी मैं जवाब तलब करता हूं । यह कहकर पुलिस व्दारा प्रस्तुत की गई झूठी चालानी रिपोर्ट निरस्त करने जाय पीड़ित पत्रकार को झूठा आश्वासन देकर अपने कार्यालय से चलता कर दिया ।
रिपोर्ट सुमित बाजपेयी


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के