aapkikhabar aapkikhabar

Section 370 -इस कारण से बौखलाए रहते हैं कश्मीरी अलगाववादी नेता



Section 370 -इस कारण से बौखलाए रहते हैं कश्मीरी अलगाववादी नेता

Dhara 370

आखिर अलगाववादी पाकिस्तान परस्त नेता और पत्थरबाज क्यों हैं Section 370  और 35 A से परेशान 


डेस्क - आखिर अलगाववादी नेता जो कश्मीर में है उनको किस बात की समस्या है अगर भारत सरकार द्वारा पूरे देश से जो जनता द्वारा टैक्स दिया जा रहा है उसका लाभ जम्मू कश्मीर के लोगों को दिया जा रहा है .


भारत सरकार अगर उनकी बेहतरी के लिए वहां के लोगों की गरीबी दूर करने के लिए कुछ प्रयास करना चाहती है तो वहां की कुछ जो गिने-चुने लेता है जो मात्र केवल कश्मीर के हैं ना कि पूरे जम्मू कश्मीर के उनको क्यों तकलीफ होने लगती है वह कहीं नहीं चाहते कि धारा 370 और जो उनको स्पेशल स्टेटस का दर्जा मिल चुका है वह खत्म हो.



 ऐसे ही होगा कई सारे कानून जो कश्मीर में लागू नहीं होते हैं वह भी कश्मीर में लागू होने लगेंगे और वह सारे काम होने लगेंगे जो पूरे भारत में हो रहे हैं जो अलगाववादी नेताओं को पाकिस्तान परस्त नेताओं को कतई पसंद नहीं है सबसे बड़ी चीज है कश्मीर के लोगों को दोहरी नागरिकता हासिल है 12 और नागरिकता जो कश्मीर की है।


दूसरी भारत की यह केवल स्पेशल स्टेटस पाने की वजह से एक चौंकाने वाला तथ्य यह है की कश्मीर की लड़की अगर भारत के किसी अन्य कोने में शादी करती है तो उसकी कश्मीर की नागरिकता समाप्त हो जाती है उसी जगह अगर वह पाकिस्तान में शादी करती है तो उसकी कश्मीर की भी नागरिकता बरकरार रहती है और पाकिस्तान की भी नागरिकता बरकरार रहती  है और यही नहीं पाकिस्तान से भी शादी करके कोई कश्मीर में आता है तो उसको भी पाकिस्तान की नागरिकता हासिल होती है और कश्मीर की नागरिकता अब सवाल यह उठता है कि भारत के लोगों के टैक्स का फल कश्मीर को दिया जाता है लेकिन भारत के लोग कश्मीर में जमीन नहीं खरीद सकते ।
कश्मीरी लड़की अगर पाकिस्तानी से शादी करे तो उसकी नागरिकता बरकरार और अगर भारत के अन्य राज्य में शादी करें तो नागरिकता समाप्त जबकि कश्मीर को यह नही भीलन चाहिए कि यह वही भारत है जिसने उस समय मदद की थी जब पाकिस्तानी कबाइलियों ने उन पर हमला कर के उन्हें लूटना शुरू कर दिया था ।


https://www.facebook.com/821486877928132/posts/2651205838289551/


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के