aapkikhabar aapkikhabar

एक व्यक्ति के वजह से KartarpurCorridor में लगा था अड़ंगा ,भारत फिर से उठाएगा मुद्दा



एक व्यक्ति के वजह से KartarpurCorridor में लगा था अड़ंगा ,भारत फिर से उठाएगा मुद्दा

Kartarpur corridor

 KartarpurCorridor भारत पूछेगा चावला के बारे में 


डेस्क -Kartarpurcorridor मामले पर भारत और पाकिस्तान में दोनों पक्षों के बीच में वार्ता होनी है यह वार्ता एक व्यक्ति के वजह से कई महीनों तक चलती रही कारण यह था पाकिस्तान ने अपने डेलिगेशन में एक पाकिस्तान समर्थक खालिस्तान समर्थक गोपाल सिंह चावला का नाम दिया था जो भारत और पाकिस्तान के बीच में होने वाले वार्ता के बीच में मौजूद रहने वाला था इसको लेकर भारत को कड़ी आपत्ति थी और जब पाकिस्तान गोपाल सिंह चावला को डेलिगेशन से हटाने के लिए तैयार हुआ ।


तभी जाकर भारत और पाकिस्तान के बीच में यह वार्ता आज फिर होने जा रही है बताया जा रहा है की 550 में वर्षगांठ पर गुरु नानक देव जी के स्थान जो कि पाकिस्तान में आता है वहां तक भारतीय लोगों को आने जाने के लिए दर्शन करने के लिए करतारपुर कॉरिडोर बनाने की मांग लगातार की जा रही थी जिस पर अब सहमति बनती नजर आ रही है पाकिस्तान के डेलिगेशन द्वारा बताया गया की करतारपुर कॉरिडोर मामले में लगभग 70% तक का काम किया जा चुका है और भारत में भी लगभग 60% काम पूरा हो चुका है 19 मार्च को हुए बैठक में पाकिस्तान में पुल बनाने पर सहमति अपनी दिखाई थी लेकिन बाद में उसमें इस मामले से अपना रुख बदल लिया और कहा कि वह मिट्टी का तटबंध बनाएगा.


अनुमान है जो कि 15 एकड़ में बनाया जाएगा परिषद जहां तक भारतीय क्षेत्र की बात है वहां लगातार काम चल रहा है और ढाई सौ मजदूर और 30 इंजीनियर लगातार तीन शिफ्ट में काम कर रहे हैं.
इस कॉरिडोर में जिसे 15 एकड़ में बनाया जाना है यात्रियों के लिए 10 बसें 250 कारें 250 टू व्हीलर के लिए पार्किंग की व्यवस्था की जाएगी और 5000 लोगों के बैठने की व्यवस्था की जाएगी ।


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के