aapkikhabar aapkikhabar

9 अगस्त से बदल रही है ग्रहों की चाल इन राशियों पर होगा बाद असर



9 अगस्त से बदल रही है ग्रहों की चाल इन राशियों पर होगा बाद असर

ग्रहों की चाल

 


जानिए क्या होगा आपकी राशि पर मंगल के इस गोचर (कर्क से सिंह राशि में) परिवर्तन का प्रभाव--


ग्रहों के सेनापति मंगल ग्रह 9 अगस्त 2019 की सुबह 5 बजकर 12 मिनट पर कर्क राशि छोड़ सूर्य की राशि सिंह में प्रवेश करेंगे। इस राशि में मंगल 24 सितंबर 2019 तक रहने वाले हैं। मंगल का सिंह राशि में गोचर और इस राशि में शुक्र और सूर्य का भी प्रवेश होने से त्रिग्रही योग बनेगा।
सिंह राशि सूर्य की राशि है। ज्योतिष में मंगल को क्रूर ग्रह माना गया है। मंगल ऊर्जा, अग्नि और युद्ध का प्रतीक है। मंगल कुंडली में भारी होने पर अमंगल कर देते हैं। इसलिए ज्योतिषीय नजरिए से मंगल का गोचर बहुत अहमियत रखता हैं।
ज्योतिष शास्त्र में मंगल मेष एवं वृश्चिक राशि के स्वामी माने जाते है। मंगल ऊर्जा के प्रतीक हैं। मंगल जातक को जूझारू बनाते हैं। ये सूर्य, चंद्रमा और बृहस्पति के मित्र हैं तो बुध व केतु के साथ इनका शत्रुवत संबंध है। शुक्र और शनि के साथ इनका संबंध तटस्थ है। मंगल मकर राशि में उच्च के रहते हैं तो कर्क राशि में इन्हें नीच का माना जाता है। मंगल दोष से पीड़ित जातक को अपने वैवाहिक जीवन में कष्टों से लेकर दरिद्रता जैसे दु:ख उठाने पड़ते हैं। मंगल का राशि परिवर्तन करना जातक की कुंडली में भावानुसार सकारात्मक व नकारात्मक प्रभाव डालता है। ज्योतिषाचार्य पण्डित दयानन्द शास्त्री के अनुसार इस ग्रह योग के प्रभाव से देश के कुछ भागों में आकस्मिक प्राकृतिक आपदाएं आ सकती हैं। मंगल के राशि परिवर्तन का सभी राशि वालों पर कुछ न कुछ प्रभाव पड़ता दिखाई दे रहा हैं ।


जानिए क्या होगा आपकी राशि पर मंगल के इस गोचर (कर्क से सिंह राशि में) परिवर्तन का प्रभाव--


मेष: मंगल का गोचर इस राशि के पांचवे भाव में होने जा रहा है। इस दौरान आपको आर्थिक जीवन में सफलता पाने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी। किसी नए काम की शुरुआत करने के लिए समय शुभ रहेगा। हालांकि प्रेम संबंधों में तनाव उत्पन्न हो सकते हैं।


वृषभ: मंगल का गोचर इस राशि के चौथे भाव में होने जा रहा है। आपको अपनी मेहनत के अनुसार फल मिलेगा। कार्यस्थल पर सीनियर्स का साथ मिलेगा। बच्चे पढ़ाई में अच्छा प्रदर्शन करेंगे। शरीर में ऊर्जा की मात्रा भरपूर रहेगी। मंगल चतुर्थ हो जाएगा। यह समय कुछ चिंताजनक रहने की संभावना है। माता से विवाद हो सकता है। कार्यों में अड़चनें आ सकती हैं, योजनाओं में फेरबदल करना पड़ सकता है। कार्य स्थान पर विवाद की स्थिति बन सकती है।


मिथुन: इस राशि में मंगल ग्रह का गोचर तीसरे भाव में होने जा रहा है। आपको कोर्ट-कचहरी से जुड़े मामलों में सफलता मिल सकती है। लेकिन स्वास्थ्य का ज्यादा ध्यान रखना होगा। आर्थिक मामलों को लेकर सावधानी बरतने की जरूरत पड़ेगी। गुस्से पर नियंत्रण रखना होगा।


कर्क: मंगल का गोचर आपकी राशि के दूसरे भाव में होने से आपका आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। बिजनेस में तरक्की मिलने के आसार हैं।
मंगल के निकलने से ये राशि फायदे में रहेगी। जो बाधाएं आ रही थीं और जो विवाद हो रहे थे, वे थम जाएंगे। अपनी क्षमता का फायदा उठाने में सक्षम रहेंगे। जमीन और कर्ज संबंधी मामलों में सुधार होगा। योजनाएं सफल होंगी। पैतृक संपत्ति में लाभ मिलेगा। यात्राएं काफी करनी पड़ सकती हैं।


सिंह: मंगल आपकी ही राशि के प्रथम भाव में गोचर करने जा रहा है। आपकी राशि के लिए मंगल का प्रवेश मंगलकारी होगा। 17 अगस्त से 2019 को सूर्य प्रवेश के साथ राशि चक्र की सबसे मजबूत राशि बन गई है। सभी मंगलकारी कार्य बनेंगे और सफलता प्राप्त होगी। विशेषकर विदेश जाने वालों को सफलता प्राप्त होगी। कार्यस्थल पर आपकी साख में बढ़ोतरी होगी। लेकिन गुस्से और वाणी पर नियंत्रण रखना होगा। यात्रा से लाभ मिल सकता है। प्रॉपर्टी खरीदने की योजना बना सकते हैं।


कन्या: कन्या राशि में मंगल का गोचर 12वें भाव में होने जा रहा है। इस दौरान नौकरी में तरक्की मिल सकती है। व्यापारियों के लिए भी समय अच्छा रहेगा। आर्थिक जीवन में सफलता मिलेगी। दुश्मन निर्बल रहेंगे। लव लाइफ के लिए हालांकि समय थोड़ा तनाव भरा रहने वाला है।


तुला: मंगल का गोचर आपकी राशि के 11वें भाव में होने जा रहा है। आर्थिक स्थिति में सुधार आने की संभावना है। काम में अच्छा प्रदर्शन कर पाएंगे। आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होगी। जीवन साथी के साथ कहीं घूमने जा सकते हैं।
एकादश मंगल शुभकारी होगा। यह आय को बढ़ाने वाला और पिता से फायदा दिलाने वाला होगा। योग्यता का विकास होगा। जीवन साथी से चला आ रहा विवाद समाप्त होगा और मधुरता स्थापित होगी।


वृश्चिक: मंगल का गोचर इस राशि के 10वें भाव में होने जा रहा है। इस दौरान आपको काम के चलते काफी यात्राएं करनी पड़ सकती हैं।नए और लाभकारी दोस्त बनेंगे। बेरोजगार लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है। परिवार में किसी व्यक्ति की सेहत बिगड़ सकती है।
राशि स्वामी मंगल दशम हो जाएगा। यह सुख और शांति प्रदान करने वाला होगा। नवीन वाहन खरीदने की योजना बन सकती है। मित्रों से मुलाकात होगी। घरेलु मोर्चे पर सफल होंगे। यात्रा का योग भी है। सम्मान प्राप्त होगा।


धनु: मंगल ग्रह का गोचर आपकी राशि के नौवें भाव में होने जा रहा है। आपके तनाव कम होंगे। समाज में मान सम्मान बढ़ेगा। कार्यस्थल पर बॉस आपसे खुश रहेंगे। इनकम बढ़ने के आसार हैं।


मकर: मंगल का गोचर मकर राशि के आठवें भाव में होने जा रहा है। इस दौरान नौकरी में बदलाव की उम्मीद है। पैसों के लेन-देन में सावधानी बरतनी होगी। कोई करीबी व्यक्ति धोखा दे सकता है।



कुंभ: मंगल का गोचर आपकी राशि के सातवें भाव में होने जा रहा है। लव लाइफ के लिए समय मुश्किल है। शांति से काम लेना होगा। हालांकि आपका आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। स्वास्थ्य का खास ध्यान रखें।
सप्तम मंगल योजनाएं बिगाड़ सकता है। स्वयं के बल पर सफलता मिलेगी। साझेदारों से बचकर रहें। धार्मिक संगत बढ़ेगी। एलर्जी संबंधी बीमारीयां आ सकती हैं। कुछ दुखी करने वाले समाचार भी मिल सकते है। संतान से सुख प्राप्त होगा।


मीन: मंगल का गोचर मीन राशि के छठवें भाव में होने जा रहा है। इस दौरान आपको सफलता पाने के लिए ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी। गलत संगति से बचकर रहें। वाहन सुख की प्राप्ति हो सकती है।


पंडित दयानंद शास्त्री 


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के