aapkikhabar aapkikhabar

अब और भी ज्यादा पारदर्शी हो गई मोदी सरकार ,अब इन विभागों में नही लगानी होगी RTI



अब और भी ज्यादा पारदर्शी हो गई मोदी सरकार ,अब इन विभागों में नही लगानी होगी RTI

aapkikhabar.com

RTI(Right To Information ) का होता था दुरुपयोग


Home Minister Amit Shah ने कहा कि मोदी सरकार ने डैशबोर्ड के माध्यम से एक पारदर्शी युग की शुरुआत की है।


स्वच्छ भारत, सौभाग्य, उज्ज्वला जैसी योजनाओं से संबंधित जानकारियों के लिए लाभार्थियों को RTI की जरूरत नहीं है, वो डैशबोर्ड के माध्यम से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि
भारत विश्व में सर्वप्रथम देश है जो नीचे तक एक जवाबदेह सूचना तंत्र की रचना करने में सफल हुआ है।


केंद्रीय सूचना आयोग से लेकर हर राज्य में सूचना आयोग की स्थापना की गई है।


लगभग 5 लाख से ज्यादा सूचना अधिकारी-कर्मचारी आरटीआई एक्ट का निर्वहन करने में योगदान दे रहे हैं।


सूचना के अधिकार के साथ-साथ लोगों में दायित्व की भावना को भी जाग्रत करें।
गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि
सूचना के अधिकार के कानून को ज्यादा सार्थक बनाने के लिए दायित्व का बोझ भी लोगों में जगाना जरूरी है।


अकारण(Right To Information )इस अधिकार का उपयोग न करें, इसका उपयोग परदर्शिता और गतिशीलता लाने के लिए ही करें।


सौभाग्य योजना के तहत लोग डेशबोर्ड में ये देख सकते हैं कि उसके घर में बिजली कब लगने वाली है।
गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि
सूचना का अधिकार का जब कानून बना तब ढेर सारी आशंकाएं व्यक्त की जाती थी।


2016 में जब कानून की स्टडी मैंने की तो मुझे भी लगा की इसका दुरुपयोग हो सकता है।
गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि
लेकिन आज हम कह सकते हैं कि(Right To Information ) दुरुपयोग बहुत कम हुआ है और सदुपयोग बहुत ज्यादा हुआ है।


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के