aapkikhabar aapkikhabar

मंदी से उबरने में मोदी सरकार का बड़ा फैसला रियल एस्टेट को बड़ा पैकेज



मंदी से उबरने में मोदी सरकार का बड़ा फैसला रियल एस्टेट को बड़ा पैकेज

Finance Minister Nirmala Sitharaman

मंदी दूर करने में रियल एस्टेट (Real estate )करगा मदद 


National Desk - काफी दिनों से मंदी की मार झेल रहे रियल एस्टेट (Real Estate)सेक्टर के अब अच्छे दिन आने वाले हैं बुधवार को वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने फंसे हुए हाउसिंग प्रोजेक्ट्स के लिए 25,000 करोड़ रुपये के अल्टरनेटिव इन्वेस्टमेंट फंड (AIF) की घोषणा की. इसमें 10,000 करोड़ रुपये सरकार की ओर से निवेश किए जाएंगे जबकि 15,000 करोड़ रुपये एलआईसी (LIC) और एसबीआई (SBI) देगी.


रियल एस्टेट (Real Estate)में मंदी की वजह से जहाँ देश की अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ रहा था वहीँ लोग बेरोजगार हो रहे थे और सरकार लगातार विपक्ष के निशाने पर आ रही थी | वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने जो प्रयास कर  रही है की लोगों को रोजगार के अवसर बढ़ेंगे रियल एस्टेट से जुड़े बिजनेस सरिया सीमेंट की बाजार में भी उछाल आएगा और जाहिर सी बात है की जब बाजार की स्थितयां सुधरेगी लोगों की खरीदने की छमता बढ़ेगी अर्थव्यवस्था भी सुधरेगी |






वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण(Nirmala Sitharaman) ने कहा कि करीब 1600 हाउसिंग प्रोजेक्ट अधूरे पड़े हैं और करीब 4.58 लाख हाउसिंग यूनिट बंद पड़ी हैं. उन्होंने कहा, सभी अधूरे हाउसिंग प्रोजेक्ट(Housing Project) पूरे होंगे. 


लगातार गिरती जा रही अर्थव्यवस्था से चिंतित सरकार लगातार 2 महीने से बैंक और जानकार लोगों के संपर्क में थी और उसके बाद मकान खरीदने वालों के हितों और अर्थव्यवस्था को ध्यान में रखते हुए सरकार ने यह फैसला लिया है और माना जा रहा है की इससे मंदी कुछ हद तक दूर करने में मदद मिलेगी |


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के