aapkikhabar aapkikhabar

धर्मशाला में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में बोले Prime Minister Narendra Modi



धर्मशाला में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में बोले Prime Minister Narendra Modi

Prime Minister Narendra Modi

Prime Narendra Modi Global Investors Meet 2019 


National Desk -हिमाचल की Community और यहां का Potential, आपकी Capital और यहां की Policy में Clarity बहुत बड़े परिवर्तन का माध्यम बनेगी। जब आप यहां के युवाओं को अधिक से अधिक अवसर देंगे, उनके टैलेंट का उपयोग करेंगे तो ये लाभ कई गुना बढ़ जाएगा|


हमारे यहां हर राज्य में अनेक संभावनाएं हैं, राज्य के हर जिले में अनेक संभावनाएं हैं, बहुत पोटेंशियल है। इस पोटेंशियल का जितना ज्यादा लाभ सरकारें, हमारा उद्योग जगत, हमारे लघु उद्योग, हमारा सर्विस सेक्टर उठाएगा, उतनी ही तेजी से हम आगे बढ़ेंगे|


कल ही हमने देश के मध्यम वर्ग को ध्यान में रखते हुए एक और बड़ा फैसला लिया है इस फैसले से साढ़े चार लाख से ज्यादा परिवारों के बरसों से अधूरे अपने घर के सपनों को पूरा करने में मदद मिलेगी|


आज के Global Senario में अगर भारत मजबूती के साथ खड़ा है, तो वो इसलिए है क्योंकि हमने अपनी अर्थव्यवस्था के fundamentals कमजोर नहीं पड़ने दिए|


आज भारत में विकास की गाड़ी नई सोच, नई अप्रोच के साथ 4 Wheels पर चल रही है। एक Wheel सोसायटी का, जो Aspiring है। एक Wheel सरकार का, जो नए भारत के लिए Encouraging है। एक Wheel Industry का, जो Daring है। और एक Wheel ज्ञान का, जो Sharing है|


 






धर्मशाला में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट ये सुनने ही थोड़ा अटपटा लगता है लेकिन ये कल्पना नहीं है, ये सच्चाई है। इसके लिए आप सभी को बधाई हो। देश और दुनिया को ये हिमाचल प्रदेश का एक स्टेटमेंट है कि हम भी अब कमर कस चुके हैं|


निवेशक के लिए ये आवश्यक है कि उसे उपयुक्त इकोसिस्टम मिले, इंस्पेक्टर राज से मुक्ति मिले। इन दिनों सरकारें इस इकोसिस्टम को बनाने की स्पर्धा में आगे आ रही हैं। राज्यों के बीच एक अच्छी तंदरुस्त स्पर्धा नजर आ रही है|


बेवजह के नियम-कायदे और सरकार का बहुत ज्यादा दखल कहीं न कहीं उद्योगों के बढ़ने की रफ्तार को रोकता है। मुझे खुशी है कि इसी सोच के साथ हिमाचल प्रदेश सरकार भी काम कर रही है|


राज्य इनिशिएटिव लेकर व्यवस्था सरल कर रहे हैं। कानूनों में बदलाव हो रहा है, गैर जरूरी नियमों को समाप्त करने की दिशा में उछाए जा रहे हैं। राज्यों में ये कम्पटीशन जितना बढ़ेगा उतना हमारे उद्योग भी ग्लोबल प्लेटफॉर्म पर सामर्थवान बनेंगे|


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के