aapkikhabar aapkikhabar

Mental Health पर खुल कर बोली दीपिका पादुकोण



Mental Health पर खुल कर बोली दीपिका पादुकोण

Dipika Padukone

 


   'न्यूयॉर्क टाइम्स' के लेख में मानसिक स्वास्थ्य पर दीपिका पादुकोण का यह अंश अवश्य पढ़ें!

 

दीपिका पादुकोण, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बॉलीवुड की जानी मानी और सम्मानित अभिनेत्री होने के नाते कभी भी अपनी छाप छोड़ने में असफल नहीं रही हैं; चाहे फिर एक फैशन स्टेटमेंट बनाना हो या फिर लोगों को प्रेरित करने की कोशिश करना हो! अभिनेत्री ने इस बार सीमा के पार, डिप्रेशन से लड़ने की अपनी कहानी के बारे में बात करके फिर से एक साहसिक कदम उठाया है।

न्यूयॉर्क टाइम्स, एक प्रतिष्ठित अमेरिकी दैनिक के साथ एक इंटरव्यू में, अभिनेत्री दीपिका पादुकोण ने मानसिक तनाव के बारे में बात करने के साथ-साथ उस अकेलेपन के बारे में बात की जब आस पास बहुत सारी चीजें होने के बावजूद भी व्यक्ति को ऐसा महसूस होता है।

सबसे पहले, वह इस बारे में प्रकाश डालती है कि कैसे डब्ल्यूएचओ के अनुसार, दुनिया भर में 300 मिलियन लोग चुपचाप एक ही चुनौती का सामना कर रहे हैं और इस तथ्य से पूरी तरह अनजान हैं कि उनके साथ क्या हो रहा है।

वह कहती है, "आपकी माँ की तरह केवल आपके करीबी व्यक्ति ही ऐसी चीज़ों पर ध्यान देंगे।"

जब दीपिका को अपने जीवन में कुछ साल पहले इसी तरह की स्थिति का सामना करना पड़ा था, तो वह इस मुद्दे को संबोधित करने के लिए आगे आई और 'द लिव लव लाफ' नामक फाउंडेशन की नींव रखी। भारत में जहां मानसिक स्वास्थ्य को एक निषेध के रूप में माना जाता है, दीपिका पादुकोण बीमारी के आसपास के कलंक को दूर करना चाहती हैं और लोगों से अपनी कहानी के बारे में चुप्पी तोड़ने और इस स्थिति से बाहर आने के लिए यदि आवश्यक हो तो मदद लेने का आग्रह करती हैं। उनका फाउंडेशन विभिन्न माध्यमों से जागरूकता फैलाना के लिए तत्पर है।

निस्संदेह, इस तरह से एक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर, अभिनेत्री को इस मुद्दे पर खुलकर बात करते देखना बेहद प्रेरणादायक है।   


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के