aapkikhabar aapkikhabar

केरल में ऐसा क्या बोलने वाले थे गवर्नर Arif Mohammad Khan जो अवार्ड वापसी गैंग हो गई परेशान



केरल में ऐसा क्या बोलने वाले थे गवर्नर Arif Mohammad Khan जो अवार्ड वापसी गैंग हो गई परेशान

Arif Mohammad Khan


  • Arif Mohammad Khan की बातों से घबराते हैं कट्टर 

  • नही सुनना चाहते हैं NRC और CAA पर उनकी राय 


National Desk -देश में जहां CAA (Citizenship Amendment Act )और NRC(National Register of Citizenship) के बारे में भ्रम फैलाकर पूरे देश मे अराजकता का माहौल बना दिया गया है ऐसे में आरिफ मोहमद खान (Arif Mohammad Khan) की बातें काफी महत्वपूर्ण हो जाती हैं ।


आखिर ऐसा क्या बोलने वाले थे केरल के गवर्नर आरिफ मोहम्मद खान (Arif Mohammad Khan) कि अवार्ड वापसी गैंग नेतुरन्त ही मोर्चा संभाल लिया औरङ्को बोलने से ही रोक दिया गया ।


https://www.facebook.com/821486877928132/posts/3053956301347834/


यही आरिफ मोहम्मद खान(Arif Mohammad Khan) जब काशी में बोल रहे थे तब सभी ने उनकी एक -एक बातों को गौर से सुना और सुना ही नही आरिफ मोहम्मद खान(Arif Mohammad Khan) की हर बात को ध्यान से सुना और समझा भी ।


तीन तलाक(Triple Talaq) के मुद्दे पर कांग्रेस से अलग होने वाले आरिफ मोहम्मद खान ने जहां गीता(Gita) के उपदेश को पढ़ा जितनी शिद्दत के साथ उन्होंने अरबी फारसी में कुरान की आयतों को कोट किया उतने ही शालीनता और बेहद ही शुद्ध उच्चारण के साथ संस्कृत के श्लोकों को भी पढ़ा और उसका मतलब भी समझाया ।
आरिफ मोहम्मद खान ने कहा कि उन्होंने बहुत कुछ झेला है और 10 साल तक चीजों को पढ़ा और समझा है ।
आरिफ मोहम्मद यही बातें केरल में भी कहना चाहते थे जहां कट्टरता ने उनकी आवाज को दबाने का प्रयास किया ।
लेकिन CAA(Citizenship Amendment Act) और NRC(National Register of Citizen) के बारे में बहुत ही डिटेल में जो बाते उन्होने समझाई वह समाज के सामने आई चाहिए और जो लोग गुमराह होकर देश विरोधी गतिविधियों में लिप्त होकर कुछ राजनीतिक दलों के हाथों में खेल रहे हैं ।


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के