आरबीआई ने वित्तीय वर्ष के अंत तक डब्ल्यूएमए की बढ़ी हुई सीमा का विस्तार किया

आरबीआई  ने वित्तीय वर्ष के अंत तक डब्ल्यूएमए की बढ़ी हुई सीमा का विस्तार किया
आरबीआई  ने वित्तीय वर्ष के अंत तक डब्ल्यूएमए की बढ़ी हुई सीमा का विस्तार किया मुंबई, 8 अक्टूबर (आईएएनएस)। मौजूदा महामारी से संबंधित अनिश्चितताओं को देखते हुए, आरबीआई ने 31 मार्च, 2022 तक बढ़ी हुई वेज एंड मीन्स एडवांस (डब्ल्यूएमए) की सीमा को जारी रखने का फैसला किया है।

जैसा कि सुधीर श्रीवास्तव की अध्यक्षता वाली सलाहकार समिति ने राज्य/केंद्र शासित प्रदेशों की सरकारों के लिए डब्ल्यूएमए सीमाओं की समीक्षा करने की सिफारिश की थी, रिजर्व बैंक द्वारा कुल 51,560 करोड़ रुपये की बढ़ी हुई अंतरिम डब्ल्यूएमए सीमा को 30 सितंबर, 2021 तक बढ़ाया गया, ताकि राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को महामारी के दौरान जिन कठिनाइयों का सामना करना पड़ा, उससे निपटने में मदद मिल सके।

आरबीआई ने महामारी से निपटने के लिए शुरू किए गए उदारीकृत उपायों को जारी रखने का भी फैसला किया।

उपायों से राज्यों/संघ राज्य क्षेत्रों को अपने नकदी प्रवाह को बेहतर ढंग से प्रबंधित करने में मदद मिलने की उम्मीद है।

--आईएएनएस

आरएचए/आरजेएस

Share this story