ओयो ने 900 करोड़ रुपये की अधिकृत शेयर पूंजी जुटाई

ओयो ने 900 करोड़ रुपये की अधिकृत शेयर पूंजी जुटाई
ओयो ने 900 करोड़ रुपये की अधिकृत शेयर पूंजी जुटाई नई दिल्ली, 8 सितम्बर (आईएएनएस)। ट्रैवल टेक्नोलॉजी प्लेटफॉर्म ओयो के संचालक ओरावेल स्टेज प्राइवेट लिमिटेड के बोर्ड ने मंजूरी दे दी है। एक नियामक फाइलिंग के अनुसार, कंपनी की अधिकृत शेयर पूंजी में 1.17 करोड़ रुपये से 901 करोड़ रुपये की वृद्धि हुई।

रिपोर्ट के मुताबिक, ओयो ने 14 अरब-16 अरब डॉलर के वैल्यूएशन रेंज में 1.2-1.5 अरब डॉलर जुटाने के अपने पब्लिक इश्यू को मैनेज करने के लिए जेपी मॉर्गन, सिटी और कोटक महिंद्रा कैपिटल सहित निवेश बैंकों के साथ चर्चा शुरू की है।

अधिकृत पूंजी की अधिकतम राशि है जिसे कंपनी किसी भी समय जारी करने के लिए अधिकृत है। इस तरह की सीमा शेयरधारकों द्वारा तय की जाती है और कंपनी के घटक दस्तावेज मेमोरेंडम ऑफ एसोसिएशन में निर्धारित की जाती है।

एक कंपनी अपनी अधिकृत पूंजी तब बढ़ाती है जब वह किसी और पूंजी की आवश्यकता का अनुमान लगाती है या सार्वजनिक होने और स्टॉक एक्सचेंजों पर अपने शेयरों को सूचीबद्ध करने का इरादा रखती है।

फाइलिंग की कॉपी के मुताबिक,ओयो के बोर्ड ने अपनी अधिकृत शेयर पूंजी बढ़ाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।

इससे पहले जुलाई में, यह वैश्विक संस्थागत निवेशकों से टर्म बी लोन (टीएलबी) मार्ग के माध्यम से 660 मिलियन डॉलर जुटाने वाला पहला भारतीय स्टार्टअप बन गया।

कंपनी अंतरराष्ट्रीय रेटिंग एजेंसी मूडीज एंड फिच द्वारा रेटिंग प्राप्त करने वाली पहली भारतीय स्टार्टअप भी बन गई।

ओयो जैसी टेक-आधारित कंपनियों से आईपीओ के लिए दाखिल करने वाली फर्मों की मजबूत पाइपलाइन के साथ भारतीय शेयर बाजारों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की उम्मीद है। आने वाले वर्षों में, यह भारतीय शेयर बाजारों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनने जा रहा है, जिसका अनुमान जोमैटो की बंपर लिस्टिंग के बाद लगाया जा सकता है।

ओयो ने पहले सॉफ्टबैंक, सिकोइया, लाइटस्पीड वेंचर पार्टनर्स, हीरो कॉरपोरेट और दीदी, ग्रैब और एयारबीएनबी जैसी प्रमुख वैश्विक उपभोक्ता तकनीक कंपनियों जैसे मार्की ग्लोबल वेंचर कैपिटल फंड्स से फंडिंग राउंड जुटाए हैं।

इसके कारोबार में 1.58 लाख से अधिक होटल और घर शामिल हैं। और 35 से अधिक देशों में इसकी स्टोर-फ्रंट उपस्थिति है, जबकि भारत में इसके 70 प्रतिशत से अधिक कर्मचारियों को रोजगार मिलता है।

--आईएएनएस

एनपी/एएनएम

Share this story