केंद्र ने ड्रोन पीएलआई योजना के तहत अस्थायी रूप से 14 फर्मो का चयन किया

केंद्र ने ड्रोन पीएलआई योजना के तहत अस्थायी रूप से 14 फर्मो का चयन किया
केंद्र ने ड्रोन पीएलआई योजना के तहत अस्थायी रूप से 14 फर्मो का चयन किया नई दिल्ली, 20 अप्रैल (आईएएनएस)। केंद्र सरकार ने ड्रोन और ड्रोन घटकों के लिए प्रोडक्शन-लिंक्ड इंसेंटिव (पीएलआई) योजना के तहत अस्थायी रूप से 14 फर्मो का चयन किया है।

बुधवार को नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने योजना के तहत 14 लाभार्थियों की पहली अनंतिम सूची जारी की।

सूची के अनुसार, इन 14 लाभार्थियों में पांच ड्रोन निर्माता और नौ ड्रोन घटक निर्माता शामिल हैं।

मंत्रालय ने इससे पहले 10 मार्च, 2022 को पात्र निर्माताओं से आवेदन आमंत्रित किए थे और जमा करने की अंतिम तिथि 31 मार्च, 2022 थी।

मंत्रालय ने एक बयान में कहा, लाभार्थियों की सूची का और विस्तार होने की संभावना है, क्योंकि कुछ और निर्माताओं के पूरे वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए पात्रता मानदंड से अधिक होने की संभावना है।

पीएलआई लाभार्थियों की अंतिम सूची वित्तीय परिणामों और अन्य निर्दिष्ट दस्तावेजों की विस्तृत जांच के बाद 30 जून, 2022 तक जारी होने की उम्मीद है।

विशेष रूप से ड्रोन और ड्रोन घटकों के लिए पीएलआई योजना के लिए पात्रता मानदंड में ड्रोन कंपनियों के लिए 2 करोड़ रुपये का वार्षिक बिक्री कारोबार और ड्रोन घटकों के निर्माताओं के लिए 50 लाख रुपये और बिक्री कारोबार के 40 प्रतिशत से अधिक का मूल्यवर्धन शामिल है।

ड्रोन और ड्रोन घटकों के लिए पीएलआई योजना को 30 सितंबर, 2021 को अधिसूचित किया गया था।

इस योजना के तहत, तीन वित्तीय वर्षो में कुल 120 करोड़ रुपये का प्रोत्साहन दिया जाता है, जो वित्तवर्ष 2020-21 में सभी घरेलू ड्रोन निर्माताओं के संयुक्त कारोबार का लगभग दोगुना है।

पीएलआई दर मूल्यवर्धन का 20 प्रतिशत है जो अन्य पीएलआई योजनाओं में सबसे अधिक है।

--आईएएनएस

एसजीके/एएनएम

Share this story