जोमैटो के सीईओ बोले, डिलीवरी एजेंट धोखाधड़ी के बारे में जानते हैं और खामियां दूर कर रहे हैं

जोमैटो के सीईओ बोले, डिलीवरी एजेंट धोखाधड़ी के बारे में जानते हैं और खामियां दूर कर रहे हैं
जोमैटो के सीईओ बोले, डिलीवरी एजेंट धोखाधड़ी के बारे में जानते हैं और खामियां दूर कर रहे हैं नई दिल्ली, 22 जनवरी (आईएएनएस)। एक उद्यमी द्वारा लिंक्डइन पोस्ट में शिकायत किए जाने के बाद कि एक जोमैटो डिलीवरी एजेंट ने सीधे उसे कुछ पैसे देकर कंपनी को धोखा देने और भोजन का आनंद लेने की सलाह दी।

कंपनी के संस्थापक और सीईओ दीपिंदर गोयल ने कहा, वह इस धोखाधड़ी के बारे में जानता है और खामियों को दूर करने के लिए काम कर रहा है।

विनय सती ने पोस्ट किया कि एक जोमैटो डिलीवरी एजेंट ने सुझाव दिया कि अगली बार से उसे 200 रुपये या 300 रुपये का भुगतान करें और 1,000 रुपये के भोजन का आनंद लें।

सती ने पोस्ट में एजेंट के हवाले से कहा, आप बस मुझे 200 रुपये, 300 रुपये दे देना या 1000 रुपये के खाने के लिए लेना।

एजेंट ने कथित तौर पर उससे कहा, मैं जोमैटो को दिखा दूंगा कि तुमने खाना नहीं लिया है, बल्कि जो खाना तुमने ऑर्डर किया है वह तुम्हें भी दूंगा।

सती ने पोस्ट किया, जोमैटो के साथ जो घोटाला हो रहा है, उसे सुनकर मेरे रोंगटे खड़े हो गए।

उसने जोमैटो से कुछ बर्गर किंग बर्गर मंगवाए और ऑनलाइन भुगतान किया।

उद्यमी ने कहा, और जैसे ही 30-40 मिनट के बाद डिलीवरी बॉय आया, उसने मुझसे कहा कि सर, अगली बार ऑनलाइन भुगतान न करें।

उन्होंने कहा कि अगली बार जब आप सीओडी (कैश ऑन डिलीवरी) के माध्यम से 700-800 रुपये का खाना ऑर्डर करेंगे तो आपको उसके लिए केवल 200 रुपये का भुगतान करना होगा।

सती ने कहा : दीपेंद्र गोयल जी, अब यह मत कहिए कि आपको पता भी नहीं है कि यह हो रहा है?

गोयल ने जवाब दिया : इससे अवगत हैं और खामियों को दूर करने के लिए काम कर रहे हैं।

--आईएएनएस

एसजीके

Share this story