दूसरी तिमाही में एंड्रॉइड टैबलेट बाजार हिस्सेदारी में 50 प्रतिशत की गिरावट

दूसरी तिमाही में एंड्रॉइड टैबलेट बाजार हिस्सेदारी में 50 प्रतिशत की गिरावट
दूसरी तिमाही में एंड्रॉइड टैबलेट बाजार हिस्सेदारी में 50 प्रतिशत की गिरावट नई दिल्ली, 30 जुलाई (आईएएनएस)। एक नई स्ट्रैटेजी एनालिटिक्स रिपोर्ट में कहा गया है कि एंड्रॉइड टैबलेट मार्केट शेयर 10 साल में पहली बार 50 फीसदी से नीचे गिर गए हैं क्योंकि लोग एप्पल, विंडोज ओईएम और कुछ हद तक सैमसंग से प्रीमियम और डिटेचेबल टैबलेट चाहते हैं।

महंगाई और आपूर्ति बाधाओं के कारण टैबलेट की मांग महामारी पूर्व स्तरों से आगे बनी हुई है।

हालांकि, बढ़ते मैक्रो-इकोनॉमिक दबाव, कम उपभोक्ता भावना, कोविड के उभरते खतरे और लंबे समय तक रूस/यूक्रेन संघर्ष वर्ष की दूसरी छमाही को और अधिक चुनौतीपूर्ण बना सकते हैं।

कनेक्टेड कंप्यूटिंग के निदेशक, एरिक स्मिथ ने कहा, मुद्रास्फीति और हाइब्रिड कार्य के दो कारक एक उल्लेखनीय गतिशील बना रहे हैं जहां अमीर उपभोक्ता प्रीमियम उपकरणों पर खर्च करना जारी रखे हुए हैं, जबकि औसत उपभोक्ता निचले स्तरों में खर्च करने से पीछे हट रहे हैं।

साथ ही, औसत उपभोक्ता केवल मनोरंजन की जरूरतों को पूरा करने के बजाय काम पूरा करने के लिए डिटेचेबल टैबलेट का पक्ष लेते हैं।

स्मिथ ने कहा, सभी शीर्ष विक्रेताओं के पास अब उनके लाइन-अप में डिटेचेबल हैं, जो पांच अलग-अलग ऑपरेटिंग सिस्टम पर लागू होते हैं।

एप्पल आईपैडओएस शिपमेंट (सेल-इन) साल-दर-साल 7 प्रतिशत गिरकर 2022 की दूसरी तिमाही में 1.48 करोड़ यूनिट हो गई।

सैमसंग ने 2022 की दूसरी तिमाही में सालाना आधार पर 13 प्रतिशत की गिरावट के साथ 71 लाख यूनिट तक एंड्रॉइड बाजार का नेतृत्व किया।

लेनोवो ने 2022 की दूसरी तिमाही में वैश्विक स्तर पर तीसरी रैंकिंग पर वापसी की, हालांकि शिपमेंट सालाना आधार पर 25 प्रतिशत गिरकर 35 लाख यूनिट हो गई।

--आईएएनएस

एसकेके/एसजीके

Share this story