पेंट के शेयरों पर बढ़ती लागत का दबाव, नेरोलैक इस साल 30 प्रतिशत लुढ़का

पेंट के शेयरों पर बढ़ती लागत का दबाव, नेरोलैक इस साल 30 प्रतिशत लुढ़का
पेंट के शेयरों पर बढ़ती लागत का दबाव, नेरोलैक इस साल 30 प्रतिशत लुढ़का नयी दिल्ली, 11 मई (आईएएनएस)। पेंट बनाने वाली कंपनियों पर ईंधन की कीमतों में आयी तेजी के कारण बढ़ते लागत मूल्य का दबाव झेलना पड़ रहा है।

पेंट उद्योग मोनोमर्स जैसे क्रूड ऑयल उत्पादों तथा टाइटेनियम डाइ ऑक्साइड का इस्तेमाल कच्चे माल के रूप में करता है। कंपनी के कुल खर्च में 50 प्रतिशत से अधिक हिस्सा इनका ही होता है।

लागत बढ़ने के कारण कंपनियों के लाभ पर असर पड़ता है, जिससे निवेशकों की दिलचस्पी पेंट बनाने वाली कंपनियों में घट गई है।

इस साल बर्गर पेंट्स के शेयरों में 14 प्रतिशत, नेरोलैक में 30 प्रतिशत से अधिक और एशियन पेंट्स में करीब 11 प्रतिशत की गिरावट देखी गई।

वित्त वर्ष 22 में पेंट बनाने वाली कंपनियों को लागत मूल्य बढ़ने के कारण उत्पाद की कीमतों में 20 प्रतिशत की तेजी करनी पड़ी है।

अप्रैल और मई के दौरान एशियन पेंट्स ने कीमतों में दो प्रतिशत की बढ़ोतरी की है और चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में इसके दाम में और तेजी आने की संभावना है।

--आईएएनएस

एकेएस/एएनएम

Share this story