मंगलवार को पेट्रोल, डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं

मंगलवार को पेट्रोल, डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं
मंगलवार को पेट्रोल, डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं नई दिल्ली, 14 सितंबर (आईएएनएस)। देश में ऑटो ईंधन की कीमतों ने मांग में वृद्धि और उत्पादन पर चिंताओं के कारण वैश्विक तेल कीमतों में उतार-चढ़ाव के बीच स्थिरता बनाए रखी है।

तेल विपणन कंपनियों (ओएमसी) ने मंगलवार को लगातार नौवें दिन पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया और आगे बदलाव करने से पहले वैश्विक तेल की स्थिति को देखने का फैसला किया गया है।

देश के सबसे बड़े ईंधन खुदरा विक्रेता इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के अनुसार, पेट्रोल और डीजल की कीमत दिल्ली में 101.19 रुपये और 88.62 रुपये प्रति लीटर पर अपरिवर्तित रही।

मुंबई में पेट्रोल की कीमत 107.26 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर रही, जबकि डीजल की दर भी 96.19 रुपये प्रति लीटर पर अपरिवर्तित है।

देशभर में भी, पेट्रोल और डीजल की कीमतें मंगलवार को स्थिर रहीं, लेकिन उनकी खुदरा दरें राज्य में स्थानीय करों के स्तर के आधार पर भिन्न थीं।

तेल कंपनियों के मूल्य निर्धारण फार्मूले के तहत दैनिक आधार पर पेट्रोल और डीजल की दरों की समीक्षा और बदलाव किया जाता है।

नई कीमतें सुबह छह बजे से प्रभावी हो गई हैं।

कीमतों की दैनिक समीक्षा और बदलाव पिछले 15 दिनों में अंतर्राष्ट्रीय बाजार में बेंचमार्क ईंधन की औसत कीमत और विदेशी विनिमय दरों पर आधारित है।

लेकिन, वैश्विक तेल कीमतों में उतार-चढ़ाव ने ओएमसी को इस फॉर्मूले का समग्रता से पालन करने से रोक दिया और अब लंबे अंतराल के साथ बदलाव किए जा रहे हैं।

इसने कंपनियों को ईंधन की कीमतों में वृद्धि करने से भी रोका है, तभी विश्व स्तर पर आगमन और ईंधन की पंप कीमत के बीच बेमेल है।

ईंधन उपभोक्ताओं को उम्मीद है कि आने वाले दिनों में ईंधन की कीमतों में कोई बदलाव नहीं होगा या कुछ राहत मिल सकती है क्योंकि वैश्विक तेल नरम रहने की उम्मीद है।

ऑयल कार्टेल ओपेक और उसके सहयोगी धीरे-धीरे उत्पादन स्तर बढ़ाने पर सहमत हुए हैं जिससे कीमतों में बढ़ोतरी को रोका जा सके। महामारी के कारण मांग पर चिंता का असर भी तेल की कीमतों पर पड़ रहा है।

कुछ ह़फ्ते पहले 74 डॉलर प्रति बैरल के निशान को छूने और फिर लुढ़कने के बाद, बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड फिर से लगभग 74 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया है।

--आईएएनएस

एसएस/एएनएम

Share this story