मोबाइल गेमिंग और ओटीटी स्ट्रीमिंग अनुभव को नए स्तर पर ले जाएगा 5जी

मोबाइल गेमिंग और ओटीटी स्ट्रीमिंग अनुभव को नए स्तर पर ले जाएगा 5जी
मोबाइल गेमिंग और ओटीटी स्ट्रीमिंग अनुभव को नए स्तर पर ले जाएगा 5जी नई दिल्ली, 6 अगस्त (आईएएनएस)। लाखों भारतीय रोजाना अपने स्मार्टफोन पर करीब पांच घंटे बिताते हैं और अब 5जी सेवाएं शुरू होने के बाद सुपर-फास्ट कनेक्शन स्पीड और कम विलंबता के साथ इंटरनेट में एक नई क्रांति का दौर शुरू होने वाला है, जो कि गेमिंग और ओटीटी स्ट्रीमिंग को काफी बढ़ावा देगा। इंडस्ट्री एक्सपर्ट्स ने ऐसी उम्मीद जताई है।

भारतीय गेमिंग इंडस्ट्री 2023 तक 45 करोड़ से अधिक ऑनलाइन गेमर्स के साथ 2025 तक 5 अरब डॉलर का क्षेत्र बनने के लिए तैयार है। ओटीटी स्ट्रीमिंग भी देश में गति पकड़ रही है।

देश में 5जी क्षमता वाले स्मार्टफोन का स्थापित आधार पांच करोड़ को पार कर गया है। काउंटरप्वाइंट रिसर्च के अनुसार, इस साल अप्रैल-जून की अवधि में 5जी स्मार्टफोन शिपमेंट शेयर कुल शिपमेंट का 29 प्रतिशत तक पहुंच गया, जो अब तक का सबसे अधिक है।

काउंटरप्वाइंट रिसर्च में रिसर्च एनालिस्ट चारु पालीवाल ने आईएएनएस को बताया, 5जी नियमित और साथ ही ओटीटी प्लेटफॉर्म पर दर्शकों के अनुभव को समृद्ध करने में मदद करेगा। उदाहरण के लिए, कई बार, हम ओटीटी प्लेटफॉर्म पर क्रिकेट मैचों या अन्य कार्यक्रमों की लाइव स्ट्रीमिंग के दौरान निम्न-श्रेणी के वीडियो प्रदर्शन देखते हैं।

पालीवाल ने कहा, 5जी बड़ी बैंडविड्थ को समायोजित कर सकता है और काफी तेज है, जिसके परिणामस्वरूप उच्च रिजॉल्यूशन और बिना किसी बफरिंग समस्याओं के वीडियो स्ट्रीमिंग होगी।

उन्होंने भरोसा जताया कि गेमिंग और स्ट्रीमिंग जैसी सेवाओं को 5जी शीर्ष स्तर पर ले जाएगा।

एरिक्सन के मार्केट एरिया साउथ ईस्ट एशिया, ओशिनिया एंड इंडिया के इंडिया हेड-नेटवर्क्‍स के एमडी नितिन बंसल ने आईएएनएस को बताया कि 5जी, हाई थ्रूपुट और अल्ट्रा-लो लेटेंसी जैसी विशेषताओं के साथ, भारत में एक इमर्सिव मोबाइल गेमिंग अनुभव को सक्षम करेगा।

बंसल ने आईएएनएस को बताया, 5जी हेवी कम्प्यूटेशनल पावर को ऑफलोड करने में मदद करेगा, गेमर्स को उच्च गति और कम विलंबता की पेशकश करेगा, जिसका अर्थ है कि इन-गेम एक्शन पहले से कहीं ज्यादा स्मूथ होगा, जिसमें गेमर के इनपुट और गेम की प्रतिक्रिया के बीच कोई अंतराल नहीं होगा - चाहे वह एकल वीआर प्लेयर के लिए हो या एस्पोर्ट्स गेमिंग कम्युनिटी के लिए ही क्यों न हो।

भारत में 5जी परीक्षण करने के लिए रिलायंस जियो के साथ साझेदारी करने वाली वैश्विक स्मार्टफोन कंपनी ओप्पो ने कहा कि जियो ने अपने तेज और कम विलंबता वाले 5जी नेटवर्क का परीक्षण ओप्पो रेनो 7 सीरीज के स्मार्टफोन पर किया है।

ओप्पो इंडिया में उपाध्यक्ष और आर एंड डी हेड तसलीम आरिफ ने आईएएनएस को बताया, भारत में अधिकांश 5जी परीक्षणों में गैर-स्टैंडअलोन मॉडल शामिल थे, ओप्पो ने एसए नेटवर्क पर अपने सॉल्यूशंस विकसित किए। इसके अलावा, हम अपने यूजर्स के लिए सबसे व्यापक 5जी अनुभव के लिए उद्योग के दिग्गजों और दूरसंचार ऑपरेटरों के साथ सहयोग कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, 5जी के आगमन के साथ, उपयोगकर्ता अनुभव डेटा डाउनलोड दरों में तीन गुना अधिक स्पेक्ट्रम दक्षता और सुपर लो लेटेंसी में बदल जाएगा, और अगली पीढ़ी की प्रौद्योगिकियां सर्वव्यापी हो जाएंगी।

सीईओ, रियलमी इंडिया, वीपी, रियलमी और प्रेसिडेंट, रियलमी इंटरनेशनल बिजनेस ग्रुप, माधव सेठ के अनुसार, 5जी आईओटी, एआई और वीआर जैसी स्मार्ट तकनीकों का अधिक से अधिक उपयोग करने में मदद करेगा, जो बदले में ग्राहकों को पेश किए जा सकने वाले नए उत्पादों और सेवाओं के विकास में क्रांतिकारी बदलाव लाएगा।

इस सप्ताह की एक अन्य रिपोर्ट में कहा गया है कि अप्रैल-जून की अवधि में भारत में 5जी शिपमेंट में 163 प्रतिशत (साल-दर-साल) की वृद्धि हुई और सैमसंग ने 28 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी के साथ नेतृत्व किया।

साइबर मीडिया रिसर्च (सीएमआर) की इंडिया मोबाइल हैंडसेट मार्केट रिपोर्ट के अनुसार, 2022 की दूसरी तिमाही में भेजे गए प्रत्येक तीन स्मार्टफोन में से एक 5जी सक्षम स्मार्टफोन था, क्योंकि शिपमेंट में 7 प्रतिशत (तिमाही-दर-तिमाही) की वृद्धि दर्ज की गई है।

श्याओमी इंडिया के अध्यक्ष मुरलीकृष्णन बी. ने आईएएनएस को बताया, अब 5जी नीलामी पूरी होने के साथ, हम उम्मीद करते हैं कि 5जी से लैस स्मार्टफोन की उपभोक्ता मांग केवल बढ़ेगी।

मुरलीकृष्णन ने कहा, हमारा मानना है कि 5जी उन नवाचारों (इनोवेशन) में से एक है, जो हमारे देश को बदलने, अपग्रेड करने और उत्थान करने की शक्ति रखता है। 5जी एआईओटी पारिस्थितिकी तंत्र (इकोसिस्टम) को मजबूत करेगा, रीयल-टाइम गेमिंग का अवसर प्रदान करेगा और एआर/वीआर अनुभव को बढ़ाएगा।

--आईएएनएस

एकेके/एसकेपी

Share this story