अगले पांच वर्षों में तापमान 1.5 डिग्री तक बढ़ने की संभावना 50 प्रतिशत

अगले पांच वर्षों में तापमान 1.5 डिग्री तक बढ़ने की संभावना 50 प्रतिशत
अगले पांच वर्षों में तापमान 1.5 डिग्री तक बढ़ने की संभावना 50 प्रतिशत जिनेवा, 10 मई (आईएएनएस)। विश्व मौसम विज्ञान संगठन (डब्लूएमओ) द्वारा मंगलवार को जारी एक नए जलवायु अपडेट में कहा गया है कि अगले पांच वर्षों में वार्षिक औसत वैश्विक तापमान अस्थायी रूप से पूर्व-औद्योगिक स्तर से 1.5 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की 50-50 प्रतिशत संभावना है।

2022-2026 के बीच किसी एक वर्ष में रिकॉर्ड गर्मी की 93 प्रतिशत संभावना है, जबकि 2022-2026 के लिए पांच साल का औसत पिछले पांच वर्षों (2017) की तुलना में अधिक होने की संभावना है।

तापमान के अस्थायी रूप से 1.5 डिग्री सेल्सियस से अधिक होने की संभावना 2015 से लगातार बढ़ रही है, जब यह शून्य के करीब था। वहीं 2017 और 2021 के बीच के वर्षों में, 10 प्रतिशत से अधिक होने की संभावना थी। 2022-2026 की अवधि के लिए यह संभावना बढ़कर लगभग 50 प्रतिशत हो गई है।

स्टेट ऑफ द ग्लोबल क्लाइमेट पर अस्थायी डब्ल्यूएमओ रिपोर्ट के अनुसार, 2021 में, वैश्विक औसत तापमान पूर्व-औद्योगिक आधार रेखा से 1.1 डिग्री सेल्सियस अधिक था। अंतिम स्टेट ऑफ द ग्लोबल क्लाइमेट रिपोर्ट फॉर 2021 18 मई को जारी किया जाएगा।

2021 की शुरूआत और अंत में ला नीना की घटनाओं का वैश्विक तापमान पर अच्छा प्रभाव पड़ा, लेकिन यह केवल अस्थायी है और दीर्घकालिक ग्लोबल वामिर्ंग प्रवृत्ति को उलट नहीं सकता है। डब्ल्यूएमओ ने कहा कि अल नीनो तुरंत तापमान को बढ़ा देगा, जैसा कि 2016 में हुआ था, जो अब तक का सबसे गर्म वर्ष था।

--आईएएनएस

एमएसबी/एसकेपी

Share this story