गुटेरेस ने फिर ग्लोबल वार्मिंग के खिलाफ चेतावनी दी, लाइफ सपोर्ट पर 1.5 डिग्री की सीमा

गुटेरेस ने फिर ग्लोबल वार्मिंग के खिलाफ चेतावनी दी, लाइफ सपोर्ट पर 1.5 डिग्री की सीमा
गुटेरेस ने फिर ग्लोबल वार्मिंग के खिलाफ चेतावनी दी, लाइफ सपोर्ट पर 1.5 डिग्री की सीमा संयुक्त राष्ट्र, 22 सितम्बर (आईएएनएस)। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने चेतावनी दी है कि, ग्लोबल वार्मिंग जारी है और 2015 के पेरिस समझौते का सबसे महत्वाकांक्षी लक्ष्य- पूर्व-औद्योगिक स्तरों से पृथ्वी के तापमान को 1.5 डिग्री सेल्सियस तक सीमित करना - जीवन समर्थन पर है।

1.5 डिग्री की सीमा जीवन समर्थन पर है, और यह तेजी से लुप्त होती जा रही है, संयुक्त राष्ट्र के शीर्ष अधिकारी ने बुधवार देर रात संवाददाताओं से कहा, उन्होंने जलवायु आपातकाल खाद्य, ऊर्जा और वित्त के ट्रिपल वैश्विक संकट के बारे में बात करने के लिए कई राष्ट्राध्यक्षों और सरकार के प्रमुखों के साथ दो बैठकें की। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने संयुक्त राष्ट्र प्रमुख के हवाले से कहा, आप सभी ने पाकिस्तान से भयावह तस्वीरें देखी हैं। यह सिर्फ 1.2 डिग्री ग्लोबल वामिर्ंग पर हो रहा है। हम 3 डिग्री से अधिक की ओर बढ़ रहे हैं।

गुटेरेस ने कहा कि उन्होंने एकत्रित नेताओं से कहा कि, हमें उनकी कार्रवाई, उनके नेतृत्व की अब जरूरत है। सबसे पहले, 1.5 को जीवित रखने के लिए शमन पर अधिक महत्वाकांक्षा, 2030 से पहले उत्सर्जन में 45 प्रतिशत की गिरावट होनी चाहिए। वर्तमान प्रतिबद्धताओं में उनमें 14 प्रतिशत की वृद्धि होगी। महासचिव ने कहा कि, उन्होंने विशेष रूप से जी20 नेतृत्व से हमारे जीवाश्म ईंधन की लत को समाप्त करने का आह्वान किया।

वित्त पोषण पर, संयुक्त राष्ट्र के शीर्ष अधिकारी ने विकासशील देशों को पूर्ण रूप से प्रतिबद्धताओं को पूरा करने के प्रयासों का आह्वान किया। उन्होंने कहा, दुनिया को इस बात पर स्पष्टता की जरूरत है कि विकसित देश सालाना 100 अरब डॉलर कैसे देंगे। मैंने 2025 तक अनुकूलन समर्थन को सालाना 40 अरब डॉलर तक दोगुना करने की आवश्यकता पर जोर दिया। खाद्य सुरक्षा की ओर मुड़ते हुए, गुटेरेस ने कहा, पर्याप्त उर्वरकों के बिना, अगले साल की फसल दुनिया को खिलाने के लिए पर्याप्त नहीं हो सकती है।

उन्होंने कहा, हमें कीमतों में कमी लाने, विकासशील देशों को समर्थन बढ़ाने और अगले साल एक बड़े संकट को रोकने के लिए अंतरराष्ट्रीय सहयोग और एकजुटता की जरूरत है। गुटेरेस ने अंतरराष्ट्रीय वित्तीय संस्थानों से विकासशील देशों के लिए समर्थन बढ़ाने का आह्वान किया। संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कहा, उन्हें तत्काल कर्ज राहत की जरूरत है।

--आईएएनएस

केसी/एएनएम

Share this story