गायिक बेयॉन्से के गीत को लेकर विवाद

गायिक बेयॉन्से के गीत को लेकर विवाद
गायिक बेयॉन्से के गीत को लेकर विवाद लॉस एंजिल्स, 2 अगस्त (आईएएनएस)। पॉप गायिक बेयॉन्से का सातवां स्टूडियो एल्बम रेनेसां पिछले महीने चर्चा का विषय रहा, लेकिन इस (हीटेड) गाने के एक शब्द ने सोशल मीडिया पर कई लोगों को नाराज कर दिया।

गीत में एक एक शब्द स्पाज है जिसके आगे एक आपत्तिजनक शब्द भी है।

मेडिकल साइंस में स्पास्टिक एक विकलांगता को बताता है जिसके तहत लोगों को अपनी मांसपेशियों को नियंत्रित करना मुश्किल हो जाता है, खासकर उनकी बाहों और पैरों की मांसपेशियों को।

अब इसको लेकर बेयॉन्से की टीम के एक बयान में कहा गया है, जानबूझकर वह शब्द इस्तेमाल नहीं किया गया था। उस शब्द को अब बदल दिया जाएगा।

गीत की सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना की गई और गर्डियन पर प्रकाशित एक निबंध में लेखक हन्ना डिवाइनी ने लिखा, संगीत से कहानी कहने की बेयॉन्से की प्रतिबद्धता अद्भुत है। एक अश्वेत महिला होने के उनके अनुभव के चलते यह उन्हें भाषा के गलत इस्तेमाल का बहाना नहीं बनाने देना चाहते।

वैराइटी के अनुसार, बेयॉन्से का भेदभाव से प्रेरित शब्द हटाने का निर्णय लिजो के ऐसा करने के निर्णय का समर्थन करता है।

लिजो ने अपने नवीनतम एल्बम, स्पेशल के अपने गीत ग्र्ल्स में इसी शब्द का इस्तेमाल किया था।

--आईएएनएस

पीटी/एसकेपी

Share this story