मुनव्वर फारुकी : असली लॉक-अप की तुलना में, यह आसान था

मुनव्वर फारुकी : असली लॉक-अप की तुलना में, यह आसान था
मुनव्वर फारुकी : असली लॉक-अप की तुलना में, यह आसान था मुंबई, 8 मई (आईएएनएस)। मुनव्वर फारूकी ने रियलिटी शो लॉक अप जीता है। उनका कहना है कि यह उनके लिए असली लॉक अप से आसान था।

मुनव्वर ने एक स्टैंड-अप कॉमेडियन और यूट्यूबर के रूप में अपना करियर शुरू किया था। वह तब खबरों में छा गए थे, जब उन्हें 2 जनवरी, 2021 को एक कॉमेडी शो के लिए भोपाल में गिरफ्तार किया गया, जिसमें उन्होंने प्रदर्शन भी नहीं किया था। बाद में 6 फरवरी को उन्हें जमानत दे दी गई थी।

मुनव्वर ने शो जीतने और ट्राफी हासिल करने के तुरंत बाद आईएएनएस से बात की।

यह पूछे जाने पर कि किस लॉक-अप से निपटना कठिन था, कॉमेडियन ने आईएएनएस को बताया कि असली लॉक-अप की तुलना में, यह आधा प्रतिशत भी नहीं था। कोई भी इसमें आपका अपमान नहीं करता है। यह एक खेल था।

फैंस को मुनव्वर के बारे में कई जानकारियां मिली और कुछ घटनाओं ने तो सभी को भावुक भी कर दिया। अपने बचपन के ट्रॉमा और अपनी मां की आत्महत्या को याद करना उनके लिए एक ऐसी ही क्षण था।

शो में आने का कारण पूछने पर उन्होंने कहा कि हां, सोशल मीडिया पर मेरे बहुत सारे फॉलोअर्स हैं, जिन्होंने मेरे कंटेंट और कहानी को धार्मिक रूप से फॉलो किया। लेकिन इस तरह के रियलिटी शो के मंच के साथ, मेरी कहानी को एक बड़ी जगह, बड़ी पहुंच मिली।

शो के माध्यम से दर्शकों और कैदियों को पता चला कि 30 वर्षीय कॉमेडियन और रैपर की एक पत्नी और एक छोटा बच्चा भी है। हालांकि, वे तलाक के कगार पर हैं और युगल अब एक साल से अधिक समय से साथ नहीं रह रहे हैं।

स्टैंड-अप कॉमेडियन को शो में आने से पहले से ही उनके प्रशंसकों का उन्हें समर्थन मिला है।

हालांकि, उन्होंने कहा कि शो जीतने के लिए उनके पास कभी कोई सेट गेम प्लान नहीं था।

लॉक अप 27 फरवरी को शुरू हुआ था, जिसकी मेजबानी कंगना रनौत ने की, जिसमें 20 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया था। एमएक्स प्लेयर और ऑल्ट बालाजी पर इसकी 72 दिनों की स्ट्रीमिंग के बाद, शनिवार आधी रात को विजेता की घोषणा की गई। मुनव्वर ने 20 लाख रुपये का चेक और एक नई कार जीती।

--आईएएनएस

एमएसबी/आरएचए

Share this story