हीरो की तरह ही खलनायक का रोल अहम होता है : जनित भूटानी

हीरो की तरह ही खलनायक का रोल अहम होता है : जनित भूटानी
हीरो की तरह ही खलनायक का रोल अहम होता है : जनित भूटानी मुंबई, 15 मई (आईएएनएस)। टीवी शो प्यार का पहला नाम राधा मोहन में विक्रांत की भूमिका निभा रहे अभिनेता जेनित भूटानी को नकारात्मक भूमिकाएं निभाने में मजा आता है।

वे कहते हैं- मुझे नकारात्मक किरदार निभाने में मजा आता है। क्योंकि इसमें अभिनय करने के लिए बहुत सारे रंग और परतें होती हैं। मैं व्यक्तिगत रूप से लगभग किसी भी कहानी में महसूस करता हूं कि खलनायक, नायक की तरह ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। नायक की कहानी कहने लायक होने का मुख्य कारण अक्सर प्रतिपक्षी होता है। खलनायक के बिना, अच्छाई पर विजय प्राप्त करने के लिए कुछ भी नहीं है, नायक को कुछ भी चुनौती नहीं देता है, और हर कोई बस अपने औसत जीवन के बारे में सोचता है।

वह आगे कहते हैं- शो में, मुझे कंस मामा की तरह दिखाया गया है। और मैं अपनी भतीजी के लिए इतना अच्छा नहीं हूं लेकिन असल जिंदगी में मुझे बच्चों का बहुत शौक है। और मैं अपनी भतीजी से बहुत जुड़ा हुआ हूं और उसे हर खुशी देने के लिए तैयार रहता हूं।

जेनित इससे पहले साथ निभाना साथिया 2, रुद्रकाल जैसे शो में नजर आ चुकी हैं।

--आईएएनएस

पीजेएस/एसकेपी

Share this story