आईबीएम ने की 3,900 कर्मचारियों की छंटनी

आईबीएम ने की 3,900 कर्मचारियों की छंटनी
नई दिल्ली, 26 जनवरी (आईएएनएस)। टेक दिग्गज आईबीएम 3,900 कर्मचारियों की छंटनी कर रही है। आईबीएम के मुख्य वित्तीय अधिकारी जेम्स कवानुघ के अनुसार छंटनी से कंपनी को जनवरी-मार्च की अवधि में 300 मिलियन डॉलर का शुल्क लगेगा।

बुधवार देर रात कंपनी की आय कॉल के दौरान उन्होंने कहा, हमने पिछले कुछ वर्षों में कई महत्वपूर्ण कार्रवाई की है, इसके परिणामस्वरूप हमारे व्यवसाय में कुछ फंसी हुई लागतें आई हैं।

कवानुघ ने कहा, हम साल की शुरुआत में इन शेष फंसे हुए खचरें को दूर करने की उम्मीद करते हैं और पहली तिमाही में करीब 300 मिलियन डॉलर का शुल्क लगाने की उम्मीद करते हैं।

आईबीएम अब मेटा, अल्फाबेट, माइक्रोसॉफ्ट और अन्य जैसी कई तकनीकी कंपनियों में शामिल हो गया है, जो वैश्विक आर्थिक प्रतिकूलताओं के बीच कर्मचारियों की छंटनी कर रही है।

31 दिसंबर, 2022 को समाप्त होने वाली तिमाही में कंपनी ने 16.7 बिलियन डॉलर का राजस्व, 3.8 बिलियन डॉलर का परिचालन पूर्व-कर आय, और 3.60 डॉलर प्रति शेयर परिचालन आय हासिल की।

कंपनी ने कहा, मौसमी रूप से सबसे मजबूत तिमाही में हमने 5.2 बिलियन डॉलर का फ्री कैश फ्लो जेनरेट किया।

स्थिर मुद्रा पर तिमाही के लिए राजस्व 6 प्रतिशत से अधिक था।

आईबीएम के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरविंद कृष्णा ने कहा कि सॉफ्टवेयर पोर्टफोलियो को मजबूत करने के लिए हमने हाइब्रिड क्लाउड और एआई क्षमताओं में निवेश किया है।

कृष्णा ने कहा, इस वर्ष हम अधिक उत्पादकता हासिल करेंगे, अपनी रणनीतिक साझेदारी का विस्तार करेंगे, और विशिष्ट विकास बाजारों में अधिक निवेश करेंगे। उन्होंने कहा, 2023 के लिए हम अपने मिड-सिंगल-डिजिट मॉडल रेंज और लगभग 10.5 बिलियन डॉलर की मुफ्त नकदी के अनुरूप राजस्व वृद्धि देखते हैं।

--आईएएनएस

सीबीटी

Share this story