तमिलनाडु ने 18वें मेगा वैक्सीन कैंप में 17.34 लाख लोगों का टीकाकरण

तमिलनाडु ने 18वें मेगा वैक्सीन कैंप में 17.34 लाख लोगों का टीकाकरण
तमिलनाडु ने 18वें मेगा वैक्सीन कैंप में 17.34 लाख लोगों का टीकाकरण चेन्नई, 9 जनवरी (आईएएनएस)। कोरोना मामलों में बढ़ोतरी के बीच, तमिलनाडु के स्वास्थ्य विभाग ने 18वें मेगा वैक्सीन शिविर में 17,34,083 लोगों को टीका लगाया है।

राज्य भर में शनिवार को शिविर आयोजित किए गए।

राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने एक बयान में कहा कि राज्य में रविवार को कोई टीकाकरण नहीं होगा।

बयान के अनुसार, 5,71,795 लोगों को वैक्सीन की पहली खुराक दी गई जबकि 11,62,288 लोगों को वैक्सीन की दूसरी खुराक दी गई। राज्य में टीकाकरण करने वालों की कुल संख्या अब 9 करोड़ से ज्यादा हो गई है।

बयान में कहा गया कि राज्य की कुल आबादी के लगभग 87.03 प्रतिशत को टीके की पहली खुराक मिली है, जबकि 60.01 प्रतिशत को दूसरी खुराक मिली है।

तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री मा सुब्रमण्यम ने आईएएनएस से कहा, राज्य पूरी आबादी को टीका लगाने की राह पर है और स्वास्थ्य विभाग और उसके कर्मचारी इस अवसर पर वैक्सीन अभियान में जुटे हुए हैं। हमने राज्य के लगभग 9 करोड़ लोगों का टीकाकरण किया है।

उन्होंने यह भी कहा कि राज्य की राजधानी चेन्नई टीकाकरण की दर में पहले स्थान पर है, जहां 92 प्रतिशत को वैक्सीन की पहली खुराक और 71 प्रतिशत को दूसरी खुराक दी गई है।

मंत्री ने कहा कि कम से कम 35.46 लाख लोग बूस्टर खुराक के लिए पात्र हैं, जिसमें 9.78 लाख फ्रंट-लाइन कार्यकर्ता, 5.65 लाख स्वास्थ्य देखभाल कार्यकर्ता और 60 वर्ष से अधिक आयु के 20.03 लाख लोग शामिल हैं।

तमिलनाडु में बूस्टर खुराक 10 जनवरी से उपलब्ध कराई जाएगी, लेकिन बूस्टर खुराक के लिए निर्धारित मानदंडों के अनुसार उस दिन केवल 4 लाख ही बूस्टर खुराक प्राप्त कर पाएंगे। बूस्टर खुराक उन्हें दी जाएगी जिन लोगों ने दूसरी खुराक के बाद 39 सप्ताह पूरे कर लिए होंगे।

राज्य सरकार ने सोमवार को जिला कलेक्ट्रेट में होने वाली जन शिकायत बैठकों के साथ-साथ किसान शिकायत बैठकों सहित राज्य भर में सभी शिकायत दिवस बैठकों को भी रोक दिया है।

इस बीच, राज्य सरकार ने एक बयान में घोषणा की है कि लोग रविवार को लॉकडाउन के बीच शादियों में शामिल हो सकेगे, अगर वे सबूत दिखाएंगे कि वे शादियों में शामिल होने के लिए यात्रा कर रहे हैं। अगर वे शादी का निमंत्रण देते हैं तो पुलिस उन्हें यात्रा करने की अनुमति देगी और केवल 100 लोग ही शादी समारोह में शामिल हो सकेंगे।

--आईएएनएस

एसएस/आरजेएस

Share this story