मप्र में कोरोना की रफ्तार तेज, सामूहिक सूर्य नमस्कार निरस्त

मप्र में कोरोना की रफ्तार तेज, सामूहिक सूर्य नमस्कार निरस्त
मप्र में कोरोना की रफ्तार तेज, सामूहिक सूर्य नमस्कार निरस्त भोपाल , 12 जनवरी (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश में कोरोना महामारी की तीसरी लहर का असर तेजी से नजर आने लगा है, मरीजों की संख्या बढ़ रही है, तो वहीं मौतों के आंकड़े भी बढ़ रहे है। संक्रमण के चलते आज बुधवार को होने वाले सामूहिक सूर्य नमस्कार को निरस्त कर दिया गया।

राज्य में कोरेाना संक्रमितों का आंकड़ा साढ़े तीन हजार के करीब पहुंच चुका है। इंदौर में जहां बीते 24 घंटों में 1169 नए मरीज सामने आए तो भोपाल में 572 और ग्वालियर में 555 मरीज मिले हैं। इसी तरह जबलपुर, सागर आदि स्थानों पर भी नए मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा हैं। ओमिक्रॉन वेरिएंट के भी मामले सामने आने लगे हैं।

कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए जरूरी आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। इसके प्रभाव को इसी बात से समझा जा सकता है कि विवेकानंद की जयंती पर बुधवार को होने वाले सामूहिक सूर्य नमस्कार को निरस्त कर दिया गया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार की देर रात को सोशल मीडिया पर ट्वीट कर कहा, युवाओं के प्रेरणास्रोत स्वामी विवेकानंद जी की जयंती पर सम्पूर्ण मध्यप्रदेश में हम और बच्चे सामूहिक रूप से सूर्य नमस्कार करते रहे हैं, लेकिन बढ़ते हुए कोरोना के संक्रमण को देखते हुए कल सामूहिक सूर्य नमस्कार का कार्यक्रम नहीं होगा।

कोरोना की तीसरी लहर के चलते राज्य में मौतों का आंकड़ा भी बढ़ते क्रम में है। राज्य में तीसरी लहर में अब तक मरने वालों की संख्या 10 से ज्यादा हो चुकी है। इसके साथ ही संक्रमण भी तेजी से बढ़ रहा है, तो वहीं वैक्सीनेशन का अभियान तेज गति से जारी है।

बढ़ते संक्रमण की चपेट में हर वर्ग आ रहा है। सरकार के मंत्री से लेकर विधायक और कई अधिकारी भी संक्रमित हो चुके हैं। चिकित्सकों के अलावा शिक्षकों व बच्चों के भी संक्रमित होने के मामले सामने आए है।

कोरोना के संक्रमण को रेाकने के लिए तमाम एहतियात बरते जा रहे हैं। राज्य में रात का कर्फ्यू जारी है, स्कूलों मंे छात्रों की संख्या को पचास प्रतिशत पर ही रखा गया है। मास्क न लगाने वालों पर जुर्माना हो रहा है।

--आईएएनएस

एसएनपी/एसकेके

Share this story