श्रीलंका ने 60 से अधिक उम्र के लोगों को बूस्टर डोज देना किया शुरू

श्रीलंका ने 60 से अधिक उम्र के लोगों को बूस्टर डोज देना किया शुरू
श्रीलंका ने 60 से अधिक उम्र के लोगों को बूस्टर डोज देना किया शुरू कोलंबो, 18 नवंबर (आईएएनएस)। श्रीलंका के स्वास्थ्य अधिकारियों ने 60 वर्ष और उससे अधिक उम्र के लोगों को कोविड-19 के लिए बूस्टर डोज देना शुरू कर दिया है।

पश्चिमी और दक्षिणी प्रांतों और अनुराधापुरा और अमपारा जिलों में बुधवार को बूस्टर डोज देने की शुरुआत हो गयी है।

जमीन पर मौजूद डॉक्टरों ने सिन्हुआ समाचार एजेंसी को बताया कि फाइजर वैक्सीन का उपयोग बूस्टर खुराक के रूप में किया जाएगा और यह अधिक आयु वर्ग के सभी लोग तीसरी खुराक लेने के लिए अपने वैक्सीन कार्ड के साथ अपने नजदीकी टीकाकरण केंद्रों पर जा सकते हैं, भले ही उन्हें पहली या दूसरी खुराक के रूप में कोई भी टीका मिले हो।

श्रीलंका में पहली और दूसरी खुराक स्पुतनिक वी, मॉडर्ना, फाइजर, एस्ट्राजेनेका और सिनोफार्म की दी गई थी।

स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि 60 से अधिक उम्र के लोग बूस्टर खुराक के लिए पात्र हैं, यदि उन्हें दूसरी वैक्सीन लिये हुए तीन महीने हो गए हैं।

अधिकारियों ने लोगों से टीकाकरण केंद्रों पर कतार में ना लगाकर, बल्कि टीकाकरण के समय के बारे में एक डिजिटल संदेश भेजे जाने का इंतजार करने का भी आह्वान किया है।

स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार, देश में बूस्टर डोज अभियान पहले सुरक्षा बलों के कर्मियों सहित फ्रंटलाइन वर्कर के साथ शुरू हुआ था, जिसमें अब तक 1,20,000 से अधिक लोगों को बूस्टर डोज दी जा चुकी है।

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, श्रीलंका में 20 वर्ष से अधिक आयु के 93.5 प्रतिशत लोगों को पूरी तरह से टीका लगाया गया है।

गुरुवार तक, श्रीलंका में कोरोना के कुल मामलों की संख्या और मरने वालों की संख्या 5,53,722 और 14,057 थी।

--आईएएनएस

एचके/आरजेएस

Share this story