सबसे खराब कोविड वैरिएंट टीकों को 40 प्रतिशत कम प्रभावी बना देगा

सबसे खराब कोविड वैरिएंट टीकों को 40 प्रतिशत कम प्रभावी बना देगा
सबसे खराब कोविड वैरिएंट टीकों को 40 प्रतिशत कम प्रभावी बना देगा नई दिल्ली, 26 नवंबर (आईएएनएस)। यूके के स्वास्थ्य सचिव साजिद जाविद ने नए सबसे खराब सुपर-म्यूटेंट कोविड वैरिएंट पर चेतावनी देते हुए कहा है कि यह टीकों को कम से कम 40 प्रतिशत कम प्रभावी बना देगा। डेली मेल ने बताया कि इस खतरे को देखते हुए दक्षिण अफ्रीका और पांच अन्य देशों से उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा।

स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि हमारे वैज्ञानिक इस वैरिएंट के बारे में चिंतित हैं। मैं निश्चित रूप से चिंतित हूं, यही एक कारण है कि हमने आज यह कार्रवाई की है।

उन्होंने कहा, हमारे पास इस वैरिएंट का प्रारंभिक संकेत है कि यह डेल्टा वैरिएंट की तुलना में अधिक पारगम्य हो सकता है और वर्तमान में हमारे पास जो टीके हैं, वे इसके खिलाफ कम प्रभावी हो सकते हैं।

विशेषज्ञों ने पहले बताया कि कैसे बी.1.1.1.529 वैरिएंट (बाएं) में 30 से अधिक ट्रांसमिसिबल हैं।

वैरिएंट को आने वाले दिनों में विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा एनयू नाम दिया जा सकता है। वैरिएंट दक्षिण अफ्रीका में संक्रमणों में घातीय वृद्धि का कारण बना है और पहले से ही हांगकांग और बोत्सवाना सहित तीन देशों में फैल चुका है।

यूके में अब तक कोई मामला सामने नहीं आया है, लेकिन पिछले 10 दिनों में दक्षिण अफ्रीका से लौटे सभी लोगों से संपर्क किया जाएगा और परीक्षण करने के लिए कहा जाएगा।

डेली मेल की रिपोर्ट में कहा गया है कि फिलहाल, लगभग 500 और 700 लोग दक्षिण अफ्रीका से हर दिन यूके की यात्रा कर रहे हैं, लेकिन उम्मीद है कि त्योहारी सीजन शुरू होने के साथ ही यह आंकड़ा बढ़ सकता है।

--आईएएनएस

एमएसबी/आरजेएस

Share this story