स्टालिन की स्वास्थ्य सेवा योजना को पूरे तमिलनाडु में विस्तारित किया जाएगा

स्टालिन की स्वास्थ्य सेवा योजना को पूरे तमिलनाडु में विस्तारित किया जाएगा
स्टालिन की स्वास्थ्य सेवा योजना को पूरे तमिलनाडु में विस्तारित किया जाएगा चेन्नई, 8 सितम्बर (आईएएनएस)। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम.के.स्टालिन के द्वारा 5 अगस्त को कृष्णागिरि जिले में लॉन्च की गई मक्कलाई थेदी मारुथुवम योजना को साल के अंत तक पूरे राज्य में लागू कर दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री कार्यालय ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि यह योजना वर्तमान में मदुरै, कोयंबटूर, सेलम, तंजावुर, तिरुचि, तिरुनेलवेली और चेन्नई जिलों में लागू है।

यह योजना मुख्यमंत्री द्वारा कृष्णागिरी जिले के समानापल्ली गांव में शुरू किया गया था।

मुख्यमंत्री ने कहा था कि यह योजना द्रमुक सरकार के 7 सूत्रीय कार्यक्रम का हिस्सा है, जिसमें सभी के लिए जीवन की एक उन्नत गुणवत्ता की कल्पना की गई है। डॉक्टरों और नर्सों सहित हेल्थकेयर पेशेवर लोगों की मधुमेह और उच्च रक्तचाप की जांच करेंगे, जो आमतौर पर राज्य के गांवों में ठीक से नहीं देखा जाता है। इसमें बच्चों में गुर्दे की बीमारियों और अन्य जन्मजात बीमारियों की जांच भी शामिल है और नियमित अस्पताल उपचार के माध्यम से इसका पालन किया जाएगा।

जब कोयंबटूर की एक घरेलू सहायिका सुजाता 48 को उनके बृहदान्त्र में कैंसर का पता चला था, तो उन्हें चिकित्सा उपचार के लिए अपने गाँव से कोयंबटूर शहर तक हर महीने 45 किमी की यात्रा करनी पड़ती थी। मक्कलाई थेडी मारुथुवम योजना के आगमन के साथ, उसकी बहुत सी परेशानियां खत्म हो गई हैं क्योंकि चिकित्सा पेशेवर उसके दरवाजे तक पहुंचते हैं और उन्हें गुणवत्तापूर्ण उपचार प्रदान करते हैं।

कृष्णागिरी जिले की एक नर्स मोहिनी ने आईएएनएस को बताया कि घर-घर जाकर जांच के दौरान हमने पाया कि अधिकांश लोगों ने अपने रक्त और रक्तचाप की जांच नहीं कराई है और अब इनकी उचित निगरानी की जा रही है।

आईएएनएस के पास उपलब्ध 5 अगस्त से 5 सितंबर तक के स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, तीन लाख से अधिक लोग इस योजना के लाभार्थी है, जिसमें दवा और उपचार प्राप्त करना शामिल है।

--आईएएनएस

एमएसबी/आरजेएस

Share this story