Top
Aap Ki Khabar

Ayurveda Hair Treatment Tips किस तरह से सर के बालों की करें देखभाल

Ministry Of Ayush ने बताया किस तरह से आयुर्वेदिक और घरेलु उपचार से कैसे करें बालों की देखभाल

Ayurveda Hair Treatment Tips किस तरह से सर के बालों की करें देखभाल
X

hair treatment for loss हेल्थ टिप्स अब जैसे ही सर्दियों का मौसम जा रहा है और गर्मियों का मौसम आ रहा है लेकिन अभी सर्दियाँ कुछ दिनों की मेहमान है और ऐसे में बाल रूखे होने लगते हैं इसका कारण सर में खुश्की का होना स्कैल्प द्राय होने के कारण बाल झड़ने लगते हैं | बाल टूटने लगते हैं इसके बचाव के लिए मिनिस्ट्री ऑफ़ आयुष द्वारा कुछ सुझाव दिए जा रहे हैं |

इन चार तरीकों के प्रयोग से पूरी तरह से रुक जाएगा बालों का गिरना

sesame oil uses तिल के तेल का बालों में प्रयोग

सीसेम आयल तिल का तेल हिंदी में कहते हैं इसका सबसे ज्यादा फायदा यह है की यह एंटीफंगल और एंटी ऑक्सीडेंट होता है इसको सर में लगाने से रोम छिद्र और भी एक्टिव हो जाते हैं और बालों की ग्रोथ तेजी से होने लगती है और बाल टूटना बंद होजाते हैं साथ ही बालों में चमक भी आ जाती है |

Alovera uses on scalp एलोवेरा के प्रयोग से बालों को रोकना

एलोवेरा अपने सिर के स्काइप में लगाने से स्कैल्प में होने वाली टीम को यह रोकता है और मेरा में एंटीबायोटिक गुण होने के कारण यह सिर में होने वाले फंगल को भी कंट्रोल करता है जिससे बाल गिरने की समस्या काफी हद तक रूकती है और सिर्फ तत्काल काफी जल्दी हो जाता है।

इसके वजह से बालों में धीरे-धीरे शाइनिंग भी आने लगती है एलोवेरा केवल सिर की खुश्की ही दूर नहीं करता है एलोवेरा के पल को कहीं भी उपयोग किया जा सकता है इस में इतने गुण होते हैं कि यह अगर पानी के साथ में लिया जाए तो यह कब्ज की बीमारी को भी दूर करता है।

जिसके कारण पेट सही होने से ही बालों पर काफी असर पड़ता है जिसको भी लगातार कभी बना रहेगा उसके बाल भी गिरेंगे इसलिए एलोवेरा के पल को अगर बालों में और इस कॉल पर लगाया जाए और साथ ही उसको पानी के साथ उसके पल को मिलाकर अगर पिया भी जाए तो दोनों तरफ से इसका फायदा होता है।

बालों में लहसुन के फायदे (uses of garlic for hairfall treatment)

लहसुन लहसुन का प्रयोग बालों में किसी डिटेल के साथ में किया जा सकता है और जो भी रेगुलर यूज़ आप बालों में कर रहे हैं उसमें अगर लहसुन को गर्म करके और रेगुलर हेयर आयल अब जो भी यूज़ करते हैं खास करके अगर आप उसको तिल के तेलों के साथ में सरसों के तेल नारियल के तेल के साथ में उपयोग करें तो लहसुन काफी फायदेमंद होता है लहसुन में सबसे बड़ी क्वालिटी यह होती है कि या आपके बालों में होने वाले स्कैल्प पर होने वाले डैंड्रफ को पूरी तरीके से खत्म करने में या काफी उपयोगी हो सकता है।

बालों में नीम और त्रिफला का बालों के लिए प्रयोग

नीम और त्रिफला के पेस्ट को मिलाकर बालों के scalp पर लगाने से बालों में होने वाली डैंड्रफ(treatment of dandruff by neem and trifala )से छुटकारा मिलता है और बालों में खुश्की होने की वजह से जो एक खिंचाव जैसा बना रहता है उसमें भी काफी राहत मिलती है

उसके कारण से बाल धीरे-धीरे शाइनी होने लगते हैं और नीम के प्रयोग से बालों में होने वाले फंगल इंफेक्शन को भी रोका जा सकता है और त्रिफला के प्रयोग से बाल काफी मुलायम हो जाते हैं तो मिनिस्ट्री आफ आयुष द्वारा दिए गए उन सुझावों से जिसमें चार जो मुख्य रूप से सुझाव दिए गए हैं उसमें कहा गया है कि रेगुलर बालों के स्कैल्प में तिल के तेल का सेवन करना चाहिए.

जिससे जो बाल खराब हो रहे हैं बाल सफेद हो रहे हैं बालों में खुश्की आ रही है उसमें काफी कंट्रोल होगा साथ ही एलोवेरा के पल्प को यानि एलोवेरा के गूदे को बालों के स्कैल्प में सिर के इस खेल में हल्के हल्के मसाज करना चाहिए तीसरा जो भी आप तेल प्रयोग कर रहे हैं बालों के लिए उसमें लहसुन का प्रयोग करें और साथ ही त्रिफला और नीम के पत्तियों के प्रयोग स्कैल्प पर इस्तेमाल करें इससे आपके बालों की समस्या पूरी तरीके से खत्म हो सकती है ।

बालों के गिरने की वजह क्या है ?

बालों में होने वाले डैंड्रफ और जिसके कारण से बालों का गिरना शुरू हो जाता है इस पर काफी हद तक कंफर्म हो जाता है खास करके यह समस्या ठंड के मौसम में सर्दियों के मौसम में काफी ज्यादा होती है अभी कुछ दिन सर्दी का एहसास बना रहेगा और बालों में खुश्की बनी रहेगी इसलिए मिनिस्ट्री आफ आयुष द्वारा दिए गए 4 सुझावों का लगातार अमल किया जाए तो इससे काफी हद तक समस्या हल हो जाएगी.



Next Story
Share it